breaking news New

सुकमा शबरी नदी घाट में उगते सूर्य को अर्घ्य के साथ संपन्न हुआ छठ महापर्व,

सुकमा शबरी नदी घाट में उगते सूर्य को अर्घ्य के साथ संपन्न हुआ छठ महापर्व,

सुकमा। लोक आस्था के महापर्व छठ पूजा के अंतिम दिन सुकमा के शबरी नदी घाट में बड़ी संख्या में व्रतियों ने सूर्य देव को ‘सूर्योदय अर्घ्य’ चढ़ाया। अलग-अलग हिस्सों में व्रतियों ने गुरुवार सुबह उगते सूर्य को अर्घ्य दिया। व्रतियों ने उगते सूर्य को नमन किया। सूर्योदय के अर्घ्य के साथ ही 4 चार दिवसीय महापर्व छठ संपन्न हो गया। व्रतियों ने सूर्य को अर्घ्य दिया और सुख समृद्धि की कामना की। इसके बाद छठ व्रतियों ने प्रसाद ग्रहण किया।

प्रकृति पूजन के महापर्व छठ के अवसर पर पूरे सुकमा मे धार्मिक श्रद्धा और उत्साह का माहौल देखने को मिला। बिहार-झारखंड से जुड़े समाज के लोगो मे महापर्व को लेकर खास उत्साह देखने को मिला। इस दौरान छठ पूजा के पारंपरिक गीत गूंजते रहे।

सुकमा में धूमधाम से मनाया गया छठ पर्व....

बता दें कि सूर्योपासना का यह पर्व कार्तिक महीने के शुक्ल पक्ष के चतुर्थी से सप्तमी तिथि तक मनाया जाता है। इस वर्ष छठ पर्व की शुरुआत सोमवार को स्नान यानी नहाय-खाय के साथ हुई। दूसरे दिन खरना पर गुड़ की खीर बनाई गई और तीसरे दिन डूबते सूर्य को अर्घ्य दिया गया। आखिरी दिन उगते सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही छठ पर्व संपन्न हो गया।