breaking news New

बच्ची के शरीर को क्रूरतापूर्ण सिगरेट से जलाने वाला पुलिस आरक्षक बर्खास्त व गिरफ्तार

 बच्ची के शरीर को क्रूरतापूर्ण सिगरेट से जलाने वाला पुलिस आरक्षक बर्खास्त व गिरफ्तार

रायपुर। छत्तीसगढ़ के बालोद जिले में एक डेढ़ वर्ष की बच्ची के शरीर को सिगरेट से कई स्थान पर जलाने के अमानवीय कृत्य के आरोपी पुलिस आरक्षक को सेवा से बर्खास्त कर गिरफ्तार कर दिया गया है।

पुलिस महानिदेशक डी.एम.अवस्थी ने घटना के सामने आते ही तत्काल दुर्ग रेंज आई.जी.विवेकानंद सिन्हा को आरोपी आरक्षक को गिरफ्तार करने के निर्देश दिये, जिसके बाद आरोपी को भिलाई पावर हाऊस के पास से बालोद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया है।डीजीपी के निर्देश पर जांच उपरांत दुर्ग पुलिस अधीक्षक प्रशांत ठाकुर ने आरोपी आरक्षक अविनाश राय को क्रूरतापूर्ण एवं अमानवीय कृत्य के लिये सेवा से पदच्युत का आदेश जारी कर दिया है।

श्री अवस्थी ने कहा कि ऐसे अपराधिक प्रवृत्ति के पुलिसकर्मियों की विभाग में कोई जगह नहीं है। रोपी आरक्षक द्वारा इस प्रकार का कृत्य अक्षम्य है। पुलिस विभाग के उच्च स्तरीय मानकों की छवि बरकरार रखने के लिये आरोपी आरक्षक के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही आवश्यक है ताकि समाज में पुलिस की संवेदनशील छवि बनी रहे।

उल्लेखनीय है कि आरक्षक अविनाश राय द्वारा बालिका को अमानवीय तरीके से क्रूरतापूर्वक जलती सिगरेट से शरीर में कई जगह जलाया गया था।बालिका की मां ने पुलिस में की गई शिकायत में कहा हैं कि आरोपी आरक्षक ने बच्ची को गंदी-गंदी गाली देकर जलती सिगरेट से चेहरे, पेट, पीठ और हाथ में कई जगह जलाया।बच्ची की मां की रिपोर्ट पर बालोद थाने में आरोपी आरक्षक के विरूद्ध 29 अक्टूबर को ही अपराध दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई थी।आरोपी आरक्षक के विरूद्ध अनु.जाति/अनु.जनजाति अधिनियम एवं किशोर न्याय अधिनियम की भी धारायें जोड़ी गई है।