breaking news New

अनुसूचित जाति वर्ग के 09 मेधावी विद्यार्थी युगांतर पब्लिक स्कूल में पढ़ेंगे शासकीय खर्चे पर

अनुसूचित जाति वर्ग के 09 मेधावी विद्यार्थी युगांतर पब्लिक स्कूल में पढ़ेंगे शासकीय खर्चे पर

 कोरबा । कोरबा जिले के अनुसूचित जाति वर्ग के 09 मेधावी विद्यार्थी शासकीय खर्चे पर राजनांदगांव के युगांतर पब्लिक स्कूल में पढ़ेंगे। श्रेष्ठा योजना के तहत चयनित इन नौ विद्यार्थियों का दाखिला भी करा दिया गया है। जिले के स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल में पढऩे वाले इन नौ विद्यार्थियों में से पांच का दाखिला कक्षा नवमीं में तथा चार का दाखिला कक्षा ग्यारहवीं में कराया गया है। 

जिला शिक्षा अधिकारी श्री जी. पी. भारद्वाज ने बताया कि भारत सरकार द्वारा आकांक्षी जिलों के अनुसूचित जाति वर्ग के विद्यार्थियों को सर्वसुविधा युक्त आवासीय शिक्षा के लिए श्रेष्ठा योजना संचालित की जा रही है। इस योजना के तहत अगले पांच वर्षों के लिए आकांक्षी जिलों के अनुसूचित जाति वर्ग के मेधावी विद्यार्थियों को जिले में ही या जिले के आसपास के उच्च श्रेणी के आवासीय विद्यालयों में हाई स्कूल और हायर सेकेण्डरी की कक्षाओं में दाखिल कराया जाता है। कोरबा जिले को भी भारत सरकार ने आकांक्षी जिले के रूप में चयनित किया है और जिले में अनुसूचित जाति वर्ग की जनसंख्या के आधार पर दस विद्यार्थियों का सीट आबंटन किया गया है। श्री भारद्वाज ने बताया कि कक्षा नवमीं में पांच विद्यार्थी कुमारी तमन्ना सोनवानी, यशवंत सारथी, युवराज नागेश, प्रज्ञा तांडिया और हिना अहिरवार का दाखिला योजना के तहत राजनांदगांव के युगांतर पब्लिक स्कूल में करा दिया गया है। योजना के तहत कक्षा ग्यारहवीं में चार विद्यार्थियों सत्यप्रकाश अनंत, जयंत बंजारे, भूपेन्द्र टंडन और नेहा टंडन का दाखिला कराया गया है। इन विद्यार्थियों को राजनांदगांव के आवासीय विद्यालय में नि:शुल्क आवासीय शिक्षा उपलब्ध कराई जाएगी। विद्यार्थियों की पढ़ाई-लिखाई और आवासीय व्यवस्था में होने वाले सभी व्ययों की प्रतिपूर्ति भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय द्वारा की जाएगी।