breaking news New

बीजेपी नेत्री सरोज पाण्डे ने सीएम को याद दिलाया राजधर्म, कहा 'असम चुनाव में नाचने की बजाय, प्रदेश की जनता की चिंता और उचित प्रबंध करते तो यह स्थिति नहीं होती' दुर्ग के हालात को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से की बात

बीजेपी नेत्री सरोज पाण्डे ने सीएम को याद दिलाया राजधर्म, कहा 'असम चुनाव में नाचने की बजाय, प्रदेश की जनता की चिंता और उचित प्रबंध करते तो यह स्थिति नहीं होती' दुर्ग के हालात को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से की बात

जनधारा समाचार
रायपुर. राज्यसभा सांसद और भाजपा नेत्री सरोज पाण्डे ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को राजधर्म याद दिलाते हुए कहा है कि 'असम चुनाव में नाचने की बजाय, प्रदेश की जनता की चिंता और उचित प्रबंध करते तो प्रदेश में कोरोना की यह स्थिति नहीं होती.


सुश्री पाण्डे ने अपने टिवट के माध्यम से हमला बोलते हुए लिखा कि अब भी वक़्त है कि आगे आने वाले नुकसान को कम करना है तो राज्य सरकार को इस मामले में केंद्र से सहायता लेनी चाहिए. दलगत राजनीति से ऊपर उठकर जनता की सेहत और उसकी प्राणों की रक्षा करने का अपना राजधर्म  निभाना चाहिए.

पूर्व लोकसभा सांसद सरोज पाण्डे ने आगे कहा कि उन्होंने आज केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन से बात की तथा उन्हें सभी परिस्थितियों से अवगत कराते हुए कोरोना संकट के गंभीरता के बारे में जानकारी दी. मंत्री जी ने इस पर तत्काल प्रतिक्रिया देते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव को राज्य के समकक्षों से बात कर उचित कार्यवाही करने को कहा.  हर्षवर्धन ने आश्वासन दिया कि इस स्थिति से निपटने के लिए केंद्र राज्य को हर संभव सहायता तुरंत प्रदान करने को तैयार है, फिर चाहे वह अस्पतालों में सुविधाएं बढ़ाने को लेकर हो या टेस्टिंग तथा वेक्सिनेशन की गति बढ़ाने को लेकर है। साथ ही मरीजों का सम्पूर्ण इलाज हो सके तथा चिकित्सा तंत्र अपनी पूरी क्षमता से काम कर सके, इस हेतु आवश्यकता पड़ने पर विशेष मेडिकल टीम भेजने की भी बात कही.

दुर्ग की पूर्व महापौर रहीं सरोज पाण्डे ने कहा कि छत्तीसगढ़, विशेष रूप से दुर्ग जिले में कोरोना की दूसरी लहर भयावह रूप लेकर आयी है. 1 मार्च 2021 को जहाँ मात्र 47 केस दर्ज किये गए थे और एक भी मौत नहीं हुयी थी, वहीँ 31 मार्च आते-आते प्रतिदिन हज़ार से ज्यादा केस दर्ज किये जा रहे हैं और मौतों की संख्या में भी अभूतपूर्व वृद्धि हुयी है.