breaking news New

अंतर्राज्यीय मोटर साइकिल चोर गिरोह का खुलासा, 15 बाईक के साथ 6 आरोपी गिरफतार

अंतर्राज्यीय मोटर साइकिल चोर गिरोह का खुलासा, 15 बाईक के साथ 6 आरोपी गिरफतार

लाॅकडाउन में पेपर नही बनने का बहाना बनाकर ग्राहको को करते थे बाइक की बिक्री
खराब होने या पेट्रोल खत्म होने से रास्ते मं ही छोड़ कर भाग जाते थे

बचेली-लाॅकडाउन में चोर सक्रिय होने से लगातार बचेली किंरदुल क्षेत्र में मोटरसाईकिल की चोरी होने की घटना सामने आ रही थी। पुलिस के सामने एक बड़ी चुनौती थी। चोरो को पकड़ने मं पुलिस को सफलता मिली है, एक नाबालिक के साथ 6 आरोपियो को गिरफतार किया गया है जिनसे 15 बाईक बरामद की गई।
नगर मेें लगातार हो चोरी की घटना पर अंकुश लगाने दंतेवाड़ा पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक यू. उदय किरण, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र जायसवाल से मिले निर्देश के अनुरूप मोटर साईकिल चोर गिरोह की पातासाजी हेतु सूचना तंत्र को सक्रिय किया गया था एवं मुखबिर तैनात कर मोटर साईकिल बेचने की सूचना मिलने पर थाना को सूचित करने निर्देशित किया गया था। इस बीच पता चला कि पूर्व में चोरी संलिप्त पैरेाल पर रिहा नाबालिक एक बार से क्रिया है। बचेली के  सुभाषनगर में हुई बाईक की चेारी के घटनास्थल के पास देखा गया, जिससे उक्त नाबालिक चोर पर लगातार नजर रखी जा रही थी। इस बात की उसे भनक लगने पर वह जगदलपुर चला गया था।

इसी बीच स्थानीय मुखबिर से सूचना मिली कि देवा बघेल और मोंटी कुमार नाग चोरी की मोटर साइकल बेचने हेतु गा्रहक की तलाश कर रहे है, जिसकी सूचना मिलते ही तत्काल थाना प्रभारी बचेेली की टीम सिविल में दबिश दी। बचेली के घड़ी चैक के पास दोनो को मोटर साइ्रकिल को मुखबिर को बेचते हुए रंगे हाथो पकड़ा गया। दोनो से कड़ाई से पूछताछ करने पर पता चला कि नाबालिक द्वारा बाइक बेचने के लिए 2 से 3 बाईक दिये थे।
तत्काल पुलिस की एक टीम उपनिरीक्षक राजीव नाहर के नेतृत्व में जगदलपुर रवाना हुई और नाबालिक को पकड़कर बचेली लाया गया। उसे थाने लाकर देवा बघेल और मोंटी कुमार नाग से बाईक चोरी के संबंध में पूछताछ करने पर उनके द्वारा बताया गया कि जिला दंतेवाड़ा के किंरदुल से 4, बचेली से 4, दंतेवाडा से 2, बीजापुर से 2, सुकमा से 3, जगदलपुर से 4 कुल 19 बाईक की चोरी की घटना को अंजाम दिया देना स्वीकार किये। जिसे देवा बघेल, मोंटी कुमार नाग, समीर खान, साजन सिंहा, सागर उर्फ सत्यप्रकाश सिंहा बिक्री हेतु सुकमा, बीजापुर, नकुलनार, ओड़ीश में गा्रहको को लाॅकडाउन में पेपर नही बनने लाॅकडाउन के बाद गाड़ी के कागजात देने को बहाना बनाकर बाईक की बिक्री किये थे। मोटरसाइ्रकिल को बरामद करने हेतु किंरदुल एसडीओपी देवांश राठौर के नेतृत्व में थाना प्रभारी बचेली अमित पाटले, उपनिरीक्षक राजीव नाहर, उपनिरीक्षक केशव ठाकुर व सहायक उपनिरीक्षक सीमाचंलम के नेतृत्व में अलग-अलग टीम बनाकर सुकमा, बीजापुर, नकुलनार, ओडीशा भेजकर कुल 15 नग मोटर साइकिल बरामद की गई, जिसकी कीमत 6 लाख रूपये आंकी जा रही है।
आरोपियो द्वारा 2 मोटर साइकिल को ग्राहक की तलाश में मोटरसाइकल मालिक को ही बेचने की कोशिश किय जो वाहन स्वामी द्वारा मोटरसाइकल को पहचान लेने पर उन्हे वापस कर दिये अन्य 2 मोटरसाइकल को चेन टूटने व पेट्ोल खत्म होने से रास्ते में छोड़कर भाग गए थे जो बरामद नही हो पाया।
अपचारी बालक पूर्व में  भी थाना बचेली के मोटरसाइकिल चेारी करने पर गिरफतार किया गया था, जिसे बाल संप्रेक्षण गृह में दाखिल किया गया था जहाॅ से वह भाग निकला था वहाॅ भागते समय भी मोटर साइकिल चोरी कर भागा था।
इस बाइक चोर गिरोह को पकड़ने व पूरा मामला सुलझाने में एसडीओपी देवांश राठौर के नेतृत्व में बचेली थाना प्रभारी अमित पाटले, एसआई राजीव नाहर, केशव ठाकुर, एएसआई सीमाचलम, आरक्षक हीरा रात्रे, डमरूधर कश्यप, यशवंत धु्रव, खेमलाल रावटे, अजीत पैकरा, सहायक आरक्षक धरम देव सेठिया की सराहनीय भूमिका रही।