breaking news New

जनसुनवाई : अविनाश एनर्जी स्पंज आयरन लिमिटेड का ग्रामीणों ने किया भारी विरोध

जनसुनवाई : अविनाश एनर्जी स्पंज आयरन लिमिटेड का ग्रामीणों ने किया  भारी विरोध

बलौदाबाजार . जिले के ग्राम मोहरा मे अविनाश एनर्जी कंपनी के नये फैक्ट्री निर्माण के लिए आयोजित जनसुनवाई का ग्रामीणों के भारी विरोध के चलते  बीच मे ही स्थागित करना पडा़। बलौदाबाजार विधायक प्रमोद शर्मा ने जनसुनवाई का पूर्व मे ही तीव्र विरोध दर्ज करा चुके है ।उनका कहना है कि ग्रामीणों की माँग जायज है फैक्ट्री लगने से क्षेत्र प्रदुषित होगा खेत बंजर हो जायेंगे और हमारे अन्नदाता किसान मजदुर बन जायेंगे जिसको लेकर उन्होने पूर्व मे ही कलेक्टर को ज्ञापन देकर फैक्ट्री लगाने का विरोध दर्ज करा चुके थे आज पर्यावरण विभाग द्वारा जैसे ही सुनवाई की प्रक्रिया प्रारंभ हुई ग्रामीण फैक्ट्री लगाने का तीव्र विरोध करने लगे उनका कहना था कि जिले मे पहले से स्थापित सीमेंट उघोगो की वजह से पूरे जिले का पर्यावरण प्रदुषित हो चुका है


सिलतरा उरला  सहित जहाँ जहा स्पंज आयरन का उघोग लगा है उस क्षेत्र का हाल पूरा प्रदेश देख रहा है पानी का स्तर लगातार नीचे जा रहा है इसके लिए शासन प्रशासन सहित उघोगपति ध्यान नही दे रहे है किसानों का जीवन स्तर गिर रहा है । लोगो का स्वास्थ्य खराब हो रहा है। खेत के मालिक मजदुर बन गये है। इन सब बातो को देखते हुए यहाँ पर फैक्ट्री लगाने की अनुमति नही दी जायेगी।


पूर्व जिलापंचायत अध्यक्ष लक्ष्मी वर्मा ने कहा कि वह ग्रामीणों के साथ है और जब पूरे क्षेत्र के लोग कंपनी लगाने का विरोध कर रहे है तो किसी भी सुरत मे कंपनी नही लगाने दी जायेगी और यदि न्यायालय भी जाना पडा़ तो जायेंगे। इसी तरह अन्य जनप्रतिनिधियों ने भी ग्रामीणों के भारी विरोध को देखते हुए कंपनी लगाने का विरोध किया। जिलापंचायत सदस्य अदिति बघमार ने अपना विरोध दर्ज कराते हुए कहा हमारा क्षेत्र राखड़ और कोयले के काले धुँए से भर जायेगा पानी पीने योग्य नही रहेगा तो हम जायेंगे कहाँ ।उघोग लगाने के पूर्व कंपनी के लोग बडे़ बड़े वायदे करते है अनुमति मिलने के बाद भुल जाते है ।इसे हम वर्षों से देखते आ रहे है इस कारण मेरे क्षेत्र मे अविनाश एनर्जी कंपनी को उघोग लगाने की अनुमति नही दी जायेगी।


जनसुनवाई के दौरान बडी संख्या मे महिला पुरूष ग्रामीण हाथ मे तख्ती थामे कंपनी लगाने का विरोध करते बैठे रहे।भारी विरोध के चलते अपर कलेक्टर राजेन्द्र गुप्ता ने बीच मे ही जनसुनवाई को स्थागित किया। अपर कलेक्टर राजेन्द्र गुप्ता ने मीडिया को बताया कि अविनाश एनर्जी के कंपनी लगाने का ग्रामीणों ने शुरू से ही भारी विरोध किया है और उनका विरोध दर्ज कर लिया गया है पर्यावरण विभाग के द्वारा इसे केन्द्र व राज्य शासन को भेजा जायेगा और उसके बाद उच्च स्तर पर इसका निर्णय होगा। कंपनी के जनरल मैनेजर रमेश सिंह  ने कहा कि आज जनसुनवाई थी ग्रामीण विरोध कर रहे है प्रशासनिक अधिकारियों ने सुनवाई की है और जो निर्णय होगा वह मान्य होगा। कंपनी के शुरू से ही विरोध के चलते भारी मात्रा मे पुलिस बल तैनात किया गया था तथा बाहरी जिलो से भी अतिरिक्त पुलिस बल बुलायी गयी थी। वही जनसुनवाई के दौरान पर्यावरण विभाग से आये अधिकारी ग्रामीणों के सवाल पर मुकदर्शक बने बैठे रहे तथा स्थागित होते ही बडी तेजी से भागते नजर आये।