breaking news New

जीका वायरस की चपेट में कानपुर, लोगों में हड़कंप

जीका वायरस की चपेट में कानपुर, लोगों में हड़कंप

कानपुर।  उत्तर प्रदेश के कानपुर में जीका वायरस संक्रमण लगातार बढ़ने के कारण मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। शहर में शनिवार को जीका वायरस के संक्रमण से ग्रसित 13 नए मरीजों की पुष्टि होने के बाद संक्रमित लोगों की कुल संख्या 79 हो गई है।

स्थानीय प्रशासन की रिपोर्ट के अनुसार नये मरीजों में 10 पुरुष और 03 महिलाएं हैं। इसके साथ ही शहर में अब तक 55 पुरुष और 24 महिलाएं जीका वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। संक्रमित मरीजों का इलाज स्थानीय अस्पतालों में चल रहा है, लेकिन स्वास्थ्य विभाग के लिये कानपुर में जीका वायरस के स्रोत का पता करने में अब तक नाकाम रहना प्रशासन के लिये चिंता का सबब बना हुआ है।

जानकारों की राय में जीका वायरस के संक्रमण का स्रोत अज्ञात रहने के कारण ही मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जीका वायरस के शहर में सबसे ज्यादा मरीज एयरफोर्स परिसर,तिवारीपुर बगिया और बदली पुरवा सहित अन्य इलाकों में मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग ने जीका वायरस के संक्रमण के लक्षण वाले अब तक 3200 से अधिक सैंपल एकत्र करके जांच के लिए लखनऊ स्थित किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी और पुणे के नेशनल इंस्टीट्यूट आफ वायरोलाजी भेजे हैं।

स्वास्थ विभाग के सूत्रों के अनुसार जीका वायरस का संक्रमण, नवंबर माह में तेजी से बढ़ सकता है। इस कारण मरीजों की संख्या में इजाफा होने की आशंका को देखते हुये प्रशासन ने हर स्थिति से निपटने के एहतियाती इंतजाम करने के स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिये हैं।

इस बीच चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के कानपुर मंडल के अपर निदेशक डा. जी के मिश्रा ने बताया कि जीका वायरस के संक्रमण से प्रभावित क्षेत्रों में निगरानी दल तैनात किये गये हैं। इनकी निगरानी में घर-घर जाकर सर्वेक्षण करने के अलावा संदिग्ध मरीजों के नमूने एकत्र करने और वायरस के स्राेत की पहचान के अलावा साफ-सफाई, दवा छिड़काव और जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है।