breaking news New

कलेक्टर दासन ने जारी किये आपातकालीन नम्बर.. फोन करके आम नागरिक और कोरोना मरीज दे सकते हैं कोई भी जानकारी, त्वरित कार्यवाही का भरोसां दिलाया.. इंजेक्शन से लेकर सब्जियों तक को महंगा करने वालों पर कड़ी नजर

कलेक्टर दासन ने जारी किये आपातकालीन नम्बर.. फोन करके आम नागरिक और कोरोना मरीज दे सकते हैं कोई भी जानकारी, त्वरित कार्यवाही का भरोसां दिलाया.. इंजेक्शन से लेकर सब्जियों तक को महंगा करने वालों पर कड़ी नजर

जनधारा समाचार
रायपुर. जैसे जैसे कोराना महामारी से सिस्टम बेनकाब हो रहा है, और आम आदमी परेशान, उसके विपरीत प्रशासन उसे राहत देने के हरंसभव प्रयास कर रहा है. रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी को रोकने और निजी अस्पतालों की मनमानी पर अंकुश लगाने के बाद कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन ने नया कदम उठाया है.

आइएएस दासन ने कोरोना मरीजों की मदद करते हुए नए टेलीफोन नम्बर जारी किए हैं. कोरोना मरीजों से अस्पतालों द्वारा अधिक राशि लेने, डेड बॉडी नहीं देने, एंबुलेंस आदि के लिए अधिक राशि वसूलने जैसी शिकायतें आती है तो वे तुरंत इस नंबर पर शिकायत कर सकते हैं. इसके बाद निगरानी कर रही टीम त्वरित कार्यवाही करेगी.

कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन ने इस संबंध में कोरोना के जिला कंट्रोल रूम में एक नया नंबर जुड़वाया है. इसका नंबर 91 86002 70023 है. कोरोना मरीज या आम नागरिक इस फोन पर संपर्क करके अपनी समस्या दर्ज करा सकते हैं.

कालाबाजारी करने वालों की खैर नही

कलेक्टर दासन ने लगातार मिल रही शिकायतों के मददेनजर ही कालाबाजारियों पर नकेल कसी है और रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी कर रहे दलालों के खिलाफ मुहिम चला रखी है. इसके अलावा दासन ने उन अस्पतालों को भी आगाह किया है जो कोरोना के नाम पर मरीजों से जबरदस्ती कर रहे हैं. दासन ने मेडिकल स्टोर्स को भी आगाह किया कि वे मरीजों के परिजनों का पूरा साथ दें और उचित मूल्य की दवाईयां ही बेचें. दासन को जब शिकायत मिली कि सब्जी बाजार में सब्जियां महंगी कर दी गई हैं तो उन्होंने थोक बाजार चलाने वाले व्यापारियों से संपर्क साधकर उन्हें सहयोग करने का आग्रह किया. इन सबका नतीजा यह रहा कि कोरोना महामारी के नाम पर लूट मचा रहे दलालों पर अंकुश लगा है जबकि आमजनों को भी राहत मिली है.