breaking news New

विकासखंड के सेवानिवृत एवं मृत शिक्षकों के स्वत्वों का किया गया भुगतान

विकासखंड के सेवानिवृत एवं मृत शिक्षकों के स्वत्वों का किया गया भुगतान

नगरी । वनांचल स्थित आदिवासी विकासखंड नगरी के सेवानिवृत एवं मृत शिक्षकों के लंबित प्रकरणों का निराकरण कर विकासखंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय नगरी द्वारा संवेदनशीलता बरतते हुए शिक्षकों के आर्थिक स्वत्वों का त्वरित भुगतान किया गया है । विकासखंड नगरी के कुछ लंबित प्रकरण शेष थे, जिसका नियमानुसार परीक्षण किया जाकर 11 अप्रैल को जिला कोषालय धमतरी में बिल प्रस्तुत कर दिया गया है ।

साथ ही विकासखंड नगरी के सभी शिक्षकों एवं कर्मचारियों को मार्च 2022 का वेतन भुगतान भी कराया जा चुका है । 18 अप्रैल को छत्तीसगढ़ शिक्षक संघ के प्रतिनिधि मंडल के साथ सौहाद्रपूर्ण वातावरण में हुई चर्चा में बी.ई.ओ. नगरी सतीश प्रकाश सिंह ने बताया की शिक्षकों की सभी वाजिब मांगों का नियमानुसार परीक्षण किया जाकर त्वरित निराकरण किये जाने के निर्देश शाखा प्रभारी कर्मचारियों को दिया गया है । बी.ई.ओ. श्री सिंह ने बताया की शिक्षकों के लंबित सभी प्रकरणों का निराकरण किया जा चूका है । चुनिन्दा बचे प्रकरणों का परीक्षण किया जा रहा है तथा भुगतान प्रक्रियाधीन है ।

प्रमुख लंबित प्रकरणों में 1। एन.पी.एस.भुगतान में से 14 का निराकरण किया जा चूका है शेष 3 प्रकरण (प्यारी लाल देवदास-उत्तराधिकारी प्रमाण पत्र जमा नहीं करने के कारण, रघुराम नेताम-प्रान नम्बर आनलाईन मेंपिंग नही होने के कारण जिला कोषालय अधिकारी धमतरी को पत्र प्रेषित किया गया है, रूपेण कुमार यादव का मृत्यु तिथि में त्रुटि होने के कारण सुधार हेतु एन.एस.डी.एल. मुम्बई को अवगत कराया गया है। त्रुटि सुधार होने उपरांत एनपीएस राशि का तत्काल भुगतान किया जावेगा।

इसी प्रकार जी.आई.एस.भुगतान 1। प्रकरण में से 16 का निराकरण किया जा चूका है, शेष 1 प्रकरण (प्यारी लाल देवदास स.शि.एलबी शास.प्राथ.शाला कसलोर के मृत्यु उपरांत उनके आश्रित द्वारा उत्तराधिकारी प्रमाण पत्र प्रस्तुत किये जाने के उपरांत तत्काल भुगतान किया जावेगा।) अवकाश नगदीकरण के 1। प्रकरण में से 14 का भुगतान हेतु बिल कोषालय में प्रस्तुत कर दिया गया है , शेष 3 प्रकरण (प्यारी लाल देवदास, खम्हन सिंह ध्रुव, बुधराम मरकाम संबधित कर्मचारियों के खाते में अवकाश शेष नहीं होने के कारण भुगतान नही किया गया है। विकासखंड नगरी अंतर्गत अनुकम्पा नियुक्ति के प्राप्त सभी प्रकरणों का परीक्षण उपरांत जिला कार्यालय को प्रस्तुत कर दिया गया है ।

अनुकम्पा नियुक्ति के शेष 2 प्रकरण परीक्षण उपरांत 20 अप्रैल को जिला शिक्षा कार्यालय धमतरी को प्रेषित किया गया है । शिक्षकों एवं कर्मचारियों से परीक्षा में सम्मिलित होने की अनुमति हेतु प्राप्त सभी आवेदनों की सूची बनाकर अनुमति प्रदान करने हेतु कार्यालय जिला शिक्षा अधिकारी को प्रेषित किया जा चूका है।

इसी प्रकार विकासखंड नगरी अंतर्गत शिक्षकों के युक्तियुक्तकरण संबधी प्रस्ताव नियमानुसार एकल शिक्षकीय शाला एवं दर्ज संख्या के मान से आवश्यकता वाले शालाओं हेतु कार्यालय जिला शिक्षा अधिकारी धमतरी को प्रेषित किया गया है। समीपस्थ संकुल में पद रिक्त नहीं होने के कारण अन्य संकुल में प्रस्तावित किया गया है। 

विकासखंड नगरी अंतर्गत सभी सेवानिवृत एवं मृत शिक्षकों के स्वत्वों का भुगतान हेतु जिला कोषालय में बिल प्रस्तुत कर दी गयी है तदनुसार संबंधितो को भुगतान किया जा रहा है तथा दो मृत शिक्षकों का समस्त प्रकार के स्वत्वों का त्वरित भुगतान करवाने हेतु सम्बंधित शाखा प्रभारी को निर्देशित किया गया है।

अनुकम्पा नियुक्ति हेतु समस्त प्रकरण उच्च कार्यालय को प्रेषित किया जा चूका है तथा दिनांक 18 अप्रैल 2022 को प्राप्त हुए दो प्रकरण पर जांच उपरांत उच्च कार्यालय को अग्रेषित किया गया है।

चिकित्सा प्रतिपूर्ति हेतु कोई भी प्रकरण लंबित नहीं है। बिरेन्द्र कुमार नेताम सहायक शिक्षक एल.बी. का प्रकरण शासन द्वारा हॉस्पिटल का मान्यता नहीं होने के कारण कार्योत्तर स्वीकृति के लिए संचालक लोक शिक्षण संचालनालय को प्रेषित की जा रही है । विकासखंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय नगरी द्वारा चिकित्सा प्रतिपूर्ति सम्बन्धी प्राप्त सभी आवेदनों पर संवेदनशीलता बरतते हुए नियमानुसार त्वरित कार्यवाही की जाती है । 

नगरी विकासखंड के सभी शिक्षकों का सातवें वेतनमान का एरिएर्स का भुगतान हो चुका है । केवल माध्यमिक शाला प्रधान पाठकों के सातवें वेतनमान का एरिएर्स का भुगतान हेतु एक यूनिट बिल जिला कोषालय धमतरी को 13 अप्रैल को प्रस्तुत किया गया है जो जिला कोषालय में में प्रक्रियाधीन है । 

 बी.ई.ओ. सतीश प्रकाश सिंह ने बताया की उच्चाधिकारियों के मार्गदर्शन एवं शासन के निर्देशानुसार कार्यालय विकासखंड शिक्षा अधिकारी नगरी में विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास एवं शिक्षा के उतरोत्तर विकास के साथ शिक्षकों के हितों को ध्यान में रखते हुए नियमानुसार सभी कार्यो को समयबद्धरूप से सम्पादित किया जाता है ।

बी.ई.ओ. सतीश प्रकाश सिंह ने सभी शिक्षक संगठनों, कर्मचारी संगठनों एवं शिक्षकों से प्राप्त हुए शिकायतों,सुझावों,एवं मांगो का पूर्ण संवेदनशीलता के साथ शासन के नियमानुसार निराकरण किये जाने के लिए आश्वस्त किया है । विकासखंड शिक्षा कार्यालय नगरी शिक्षकों एवं कर्मचारियों की समस्याओं को लेकर काफी गंभीर है तथा शासन के नियमानुसार शिक्षकों एवं कर्मचारियों की समस्याओं का निराकरण किया जा रहा है ।

बी.ई.ओ. सतीश प्रकाश सिंह ने बताया की आगामी मई माह से संकुल स्तर पर शिक्षा चौपाल के माध्यम से शिक्षकों की विकासखंड स्तर से सम्बंधित समस्यायों एवं मांगो का निराकरण विकासखंड शिक्षा अधिकारी द्वारा करने की पहल की जा रही है जिससे शिक्षक-शिक्षिकाओं एवं कर्मचारियों को अपने व्यक्तिगत कामों से बार-बार कार्यालय आने की आवश्यकता नहीं होगी । शिक्षकों एवं कर्मचारियों की वाजिब समस्यायों का ग्राम स्तर पर ही शिक्षा चौपाल के माध्यम से निराकरण किया जावेगा ।