" सोशल डिस्टेंसिंग" का पालन नहीं करने वाले दुकानदार से वसूला गया जुर्माना


धमतरी  !  कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए बुधवार 25 मार्च से जिले में भी आगामी 14 अप्रैल तक देश भर सहित जिले में भी तालाबंदी (लॉक डाउन) प्रभावशील है। इसी तारतम्य में कलेक्टर रजत बंसल ने आज अपरान्ह शहर की विभिन्न दुकानों का औचक निरीक्षण किया। इसी दौरान एक किराने की दुकान में ग्राहकों की अधिक भीड़ तथा "सोशल डिस्टेंसिंग" के निर्देशों का पालन नहीं किया जाना पाया गया। इस पर कलेक्टर ने दुकानदार के विरुद्ध 1000 रुपए का अर्थदंड आरोपित किए जाने के निर्देश दिए। साथ ही भविष्य में शासन के निर्देशों का कड़ाई से पालन नहीं किए जाने पर सख्ती से दंडात्मक कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए। उल्लेखनीय है कि निर्धारित अवधि में खुली दुकानों में ग्राहकों के मध्य एक मीटर से अधिक दूरी बनाए रखने के लिए चूना मार्किंग कराए जाने के लिए निर्देशित किया गया था, जिसमें उक्त गोले के भीतर रहकर ही ग्राहकों को राशन प्रदाय करने के निर्देश प्रसारित किए गए थे। इसके बावजूद उक्त दुकानदार के द्वारा बेतरतीब भीड़ को राशन सामानों का विक्रय किया जा रहा था, जिसे संज्ञान में लेते हुए कलेक्टर ने तत्काल जुर्माना करने के निर्देश दिए। 


     विदित हो कि आम जनता को आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता के लिए घर से बाहर निकलना ना पड़े, इसके लिए नगर निगम के आयुक्त को घर पहुंच सेवा प्रदाय करने के लिए निर्देशित किया गया है, जिसके तहत घर पहुंच सेवाएं निगम अमले के द्वारा प्रदाय की जा रही है। इसके बाद भी कुछ दुकानों में सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करना पाया गया जिसे गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर ने उक्त कार्रवाई के निर्देश दिए। 

 होम कोरंटाइन में जाकर हालचाल पूछा- इसके पहले कलेक्टर ने शहर के कुछ वार्डों में होम कोरैंटाइन में चिन्हाकित लोगों से घर पर जाकर गृहभेंट की तथा उनका हालचाल पूछा और किसी भी दशा में घर से बाहर नहीं जाने की हिदायत दी। साथ ही उन्हें स्वास्थ्य विभाग की टीम और प्रशासनिक अधिकारियों से सहयोग करने की बात भी कही। इस अवसर पर जिला पंचायत की सीईओ श्रीमती नम्रता गांधी, नगर निगम के आयुक्त  आशीष कुमार टिकरिहा भी उपस्थित थे।

chandra shekhar