breaking news New

सुशासन दिवस के रूप में मनाया गया भारत रत्न स्व. अटलबिहारी वाजपेयी की जयंती

सुशासन दिवस के रूप में मनाया गया भारत रत्न  स्व. अटलबिहारी वाजपेयी की जयंती

भोपाल। स्व. अटलजी अंदर से नर्मदिल इंसान थे, लेकिन उन्होंने देश की सुरक्षा के साथ कोई समझौता नहीं किया। उन्होंने अपने शासनकाल में देश को गौरवशाली, वैभवशाली, समृद्ध और शक्तिशाली बनाने के लिए प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना और स्वर्णिम चतुर्भुज जैसी कई विकास योजनाओं की शुरुआत की। अटलजी हमेशा हमारे पथप्रदर्शक रहेंगे। देश और समाज के कल्याण के लिए, भारतमाता की सेवा के लिए अटलजी के बताए रास्ते पर चलें और अपने जीवन को सफल बनाएं। यह आह्वान मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने स्व. अटलजी की जयंती पर उनके जीवन पर केंद्रित प्रदर्शनी एवं सुशासन पर केंद्रित सेमिनार का शुभारंभ करते हुए किया। 

युवा मोर्चा द्वारा भारत रत्न स्व. अटलबिहारी वाजपेयी जी की जयंती को पूरे प्रदेश में सुशासन दिवस के रूप में मनाया गया। इस अवसर पर स्व. अटलजी की सरकार द्वारा शुरू की गई विकास योजनाओं, उनके प्रभाव और परिणामों पर केंद्रित सेमिनारों का आयोजन किया गया। इसके साथ ही स्व. अटलजी के जीवन के विभिन्न पहलुओं से परिचित कराने वाली प्रदर्शनी भी आयोजित की गई। राजधानी भोपाल में भी युवा मोर्चा द्वारा पार्टी के प्रदेश कार्यालय में एक चित्र प्रदर्शनी एवं सेमिनार का आयोजन किया गया। सेमिनार में युवा मोर्चा के राष्ट्रीय महामंत्री एवं प्रदेश प्रभारी  रोहित चहल, प्रदेश अध्यक्ष वैभव पंवार, विषय वक्ता के रूप में वरिष्ठ पत्रकार  रमेश शर्मा एवं  पवन मिश्रा, मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यसमिति सदस्य सुश्री भक्ति शर्मा उपस्थित रहे। मंच का संचालन युवा मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष रंजीतसिंह चौहान ने किया। 

अटलजी के लिए हमेशा देश प्रथम रहा

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि स्व. अटलजी हमारे मार्गदर्शक और पथप्रदर्शक थे। वे एक अद्भुत नेता, मौलिक चिंतक, राष्ट्रवादी विचारक और सम्मोहित करने वाले वक्ता थे। वो जब बोलते थे, तो कविता झरती थी। उनके लिए राष्ट्र हमेशा प्रथम रहा। वे कहते थे राष्ट्र हमारे लिए जमीन का टुकड़ा भर नहीं, बल्कि जीता-जागता राष्ट्रपुरुष है। श्री चौहान ने कहा कि अटलजी प्रेम, करुणा और दया के सागर थे। वे अंदर से नर्मदिल थे, लेकिन बात जब देश की सुरक्षा की आई, तो उन्होंने कोई समझौता नहीं किया। अमेरिकी प्रतिबंधों की परवाह न करते हुए उन्होंने देश को परमाणु शक्ति संपन्न बनाया।

कार्यकर्ता से प्रधानमंत्री पद तक पहुंचे अटलजी, यह भाजपा में ही संभव

श्री चौहान ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी में कोई सामान्य कार्यकर्ता भी शिखर तक पहुंच सकता है, यही भाजपा और अन्य दलों में फर्क है। अटलजी एक शिक्षक के बेटे थे, प्रधानमंत्री बने। भाजपा में ही एक चाय बेचनेवाले का बेटा प्रधानमंत्री और किसान का बेटा मुख्यमंत्री बन सकता है। अन्य दलों में ऐसा नहीं है। कांग्रेस में पं. नेहरू, इंदिरा  , राजीव , सोनिया , राहुल गांधी, प्रियंका । यह भी सभी को मालूम है कि भविष्य में पार्टी में प्रियंका  के बच्चे ही दावेदार होंगे। सपा में मुलायमसिंह यादव, शिवपाल यादव, अखिलेश यादव। राजद में लालू यादव, तेजस्वी यादव और तेजप्रताप। लेकिन भाजपा में डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी के परिवार का कोई व्यक्ति राजनीति में नहीं है। 

अटलजी के रास्ते पर चलकर राष्ट्र को गौरवशाली बना रहे मोदी जी

श्री चौहान ने कहा कि स्व. अटलजी ने प्रधानमंत्री के रूप में देश को गौरवशाली, वैभवशाली, शक्तिशाली और संपन्न बनाने की जो शुरुआत की थी, उसी रास्ते पर कदम बढ़ाते हुए हमारे प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी राष्ट्र को गौरवशाली बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज सारी दुनिया में भारत का डंका बज रहा है और हम गर्व से भर जाते हैं, जब ब्रिटेन के प्रधानमंत्री हमारे मोदी को दुनिया का अद्वितीय नेता बताते हैं।

ये थे मौजूद

चित्र प्रदर्शनी के अवसर पर पार्टी के प्रदेश मंत्री राहुल कोठारी, प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेन्द्र पाराशर, सह प्रभारी  विवेक तिवारी, प्रदेश प्रवक्ता  यशपालसिंह सिसौदिया, सुश्री नेहा बग्गा, महिला मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती माया नारोलिया, भोपाल जिला प्रभारी  महेन्द्र यादव, मोर्चा जिलाध्यक्ष अजय पाटीदार सहित मोर्चा के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता मौजूद थे।