पंजाब : खौफ के साये में जी रहे लोग , राशन बांट रहे एसडीएम ने बड़ी मुश्किल से बचाया अपनी जान

पंजाब : खौफ के साये में जी रहे लोग , राशन बांट रहे एसडीएम ने बड़ी मुश्किल से बचाया  अपनी जान

नईदिल्ली। कोरोना का खौफ ने लोगों को दहला कर रख दिया है। लॉक डाउन में     पंजाब के फरीदकोट में कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला।  जब गरीब और मजदूर लोगों ने राशन के लिए एक दूसरे के कपड़े ही फाड़ने लगे और राशन छीनने लगे। 

यह नजारा पंजाब के फरीदकोट का है , लोगों को  राशन नहीं मिला तब भीड़ फरीदकोट के कोटकापुर इलाके के एसडीएम  ऑफिस में ही राशन लेने पहुंच गई।  वहां पहुंचकर भीड़  बेकाबू हो गई, लोगों ने राशन की लूटमार करने लगे और मार पिट पर उतारू हो गए।   भीड़ ने यहाँ तक कि एक दूसरे के कपडे फाड़ने लगे। 


लॉकडाउन की वजह से लोगों के काम बंद हैं और गरीब मजदूरों के सामने खाने का बड़ा संकट खड़ा हो गया है।  सरकार अपनी तरफ से पूरी कोशिश कर रही है कि किसी को भी खाने-पीने की दिक्कत ना हो।  बावजूद इससे  लोग बेहद डरे हुए हैं। 


फरीदकोट में  एसडीएम  अपने दफ्तर के बाहर लोगों को राशन बांट रहे थे।  उस अनाज को लेने के लिए भीड़ में  भगदड़ मच गई।  लोग इतने बेकाबू हो गए कि एक दूसरे से सामान छीनने लगे नौबत यहां तक आ गई कि लोग एसडीएम के कपड़े तक खींचने लगे।  हालात इतने खराब हो गए थे कि मुश्किल से  एसडीएम  ने अपनी जान बचा पाए। 


लोगों से बार-बार अपील की जा रही है कि वो सोशल डिस्टेंसिंग नियम का पालन करें. जिससे वायरस के खतरने को कम किया जा सके. लेकिन लोग इस तरफ सही तरीके ध्यान नहीं दे रहे हैं, लेकिन लोग डर और खौफ के साये में जी रहे हैं। देश में 21 दिन का लॉकडाउन  14 अप्रैल को खत्म होगा। 

chandra shekhar