breaking news New

जगदलपुर के स्थानीय निषाद भवन में संपन्न हुआ बस्तर अधिकार मुक्ति मोर्चा का कार्यशाला, समारोह में पत्रकारों का हुआ सम्मान

जगदलपुर के स्थानीय निषाद भवन में संपन्न हुआ बस्तर अधिकार मुक्ति मोर्चा का कार्यशाला, समारोह में पत्रकारों का हुआ सम्मान

जगदलपुर। बस्तर अधिकार मुक्तिमोर्चा के संभागीय प्रवक्ता भरत कश्यप ने मुक्तिमोर्चा के प्रथम स्थापना दिवस पर संगठन द्वारा संभागीय कार्यशाला के विवरण पर बयान जारी करते हुए कहा कि कार्यशाला की शुरुआत मोर्चा के संभागीय संयोजक नवनीत चांद ,जिला संयोजक भरत कश्यप.एवम शहर महिला अध्यक्ष  शोभा गंगोत्रे, संभागीय सहसंयोजक समीर खान, बीजापुर सह संयोजक दीपक मरकाम, कांकेर संयोजक रोशन सचदेव  के द्वारा शहीद गुंडाधूर एवं अम्बेडकर की तसवीर पर माल्यार्पण के साथ हुआ। कार्यशाला में मुक्ति मोर्चा द्वारा  पत्रकारों का सम्मान स्मृति चिन्ह भेंट कर किया गया।


ततपश्चात उपस्थिति सभी आमंत्रित अतिथि  पदाधिकारी ,कार्यकर्ताओं के द्वारा राष्ट्रगान किया गया। कार्यशाला के प्रथम शेषन की शुरुआत करते हुए सम्भागीय संयोजक नवनीत चांद ने मोर्चा के गठन, उद्देश्य  की जानकारी सबको दी। सभी का आपस मे परिचय करवाया गया। बाद कार्यशाला में मंथन आगे बढ़ा। जिसे गति देते हुए वक्ता के रूप में मोर्चा के वरिष्ठ ...दिलीप ठाकुर  ,सह सयोंजक समीर अहमद ने जहाँ मोर्चा के उद्देश्य से सबको परिचय कराया वहीं  आमंत्रित  अथिति व वरिष्ठ पत्रकार नवीन श्रीवास्तव ने संघठन के मूल भावनाओं के साथ वैचारिक तैयारी को प्रांसगिक बताया ।


कार्यशाला के दूसरे शेषन में उपस्थित लोगों ने अपना  अनुभव और समस्याओं को सामने रखा जिसका निवारण वहाँ मौजूद वरिष्ठ पदाधिकारियों ने किया ।इस अवसर पर कार्यशाला में बस्तर जिला सयोंजक  भरत कश्यप बीजापुर सयोंजक श्री बजाज व सभी ब्लाक व शहर के पाधिकारी उपस्थित रहे जहाँ सबने आखिरी तक कार्यशाला के गरिमा  को आत्मसात करते हुए भविष्य सन्दर्भ में खुद को तैयार किया  कार्यशाला में बस्तर सहित संभाग भर से आये पदाधिकारी कार्यकर्ता एवं उपस्थित लोगों के लिए सुस्वादु भोजन का व्यवस्था भी किया गया था। मुक्तिमोर्चा के सयोंजक ने नवनीत चाँद ने कहा कि बस्तर के वास्तविक विकास व अधिकार के उद्देश्यों को लेकर बस्तर के सभी जिलों व ब्लाकों में संघटन का विस्तारीकरण किया जाएगा व बस्तर के जनप्रतिनिधियों व जिला प्रशासन व सरकार को जनता के लिए जारी कल्याणकारी योजनाओ को जनता तक सही लाभ पहुचे ,यह प्रयास करते हुए बस्तर के फैसले बस्तर के लोगो को विसवास में लेकर किये जायें। इस लिए राज्य सरकार व जनप्रतिनिधियों से अपील किया जाएगा।