breaking news New

यात्रीगण कृपया ध्यान दें.., रिसीव और सी ऑफ को हरी झंडी

यात्रीगण कृपया ध्यान दें.., रिसीव और सी ऑफ को हरी झंडी


मिलने लगी प्लेटफॉर्म टिकट


भाटापारा, 21 मार्च। साल भर से बंद यात्री ट्रेनों को फिर से पटरी पर लाने की कवायद के बीच रेलवे ने बड़ी राहत देते हुए, प्लेटफार्म टिकट की सुविधा फिर से बहाल कर दी है लेकिन दोगुना यात्री किराया की ही तरह इस सुविधा के लिए भी दोगुनी रकम देनी पड़ेगी।

रिसीव और सी ऑफ की मिली अनुमति। अब पहले की ही भांति यात्री, अपने परिजनों को लेने या छोड़ने प्लेटफार्म तक जा सकेंगे। 1 साल से बंद इस सुविधा के फिर से चालू होने के बाद बच्चों और बुजुर्गों को बड़ी राहत मिलेगी, जो सहारे के बिना आने-जाने में असमर्थ हैं। खासकर दिव्यांग यात्रियों को तो सबसे ज्यादा सुविधा मिलेगी जो सहयात्रियों के सहारे प्लेटफार्म आ या जा रहे हैं। इसके अलावा रेलवे की आय को फिर से पटरी पर लाने में भी मदद मिलेगी जो बेपटरी हो चली है।


हरी झंडी सी ऑफ और रिसीव को

कोरोना महामारी के बीच धीरे-धीरे ही सही, जीवन पटरी पर लौटने लगा है लेकिन रेल परिचालन की सीमित संख्या और दोगुना किराया को आर्थिक रूप से नुकसानदायक माना जा रहा है। विरोध के स्वर तो उठे लेकिन खतरा देख इसे चुपचाप स्वीकार किया जा रहा है। इस बीच प्लेटफार्म टिकट की सुविधा फिर से वापस करने के रेलवे के फैसले ने बड़ी राहत दी है। अब पहले की ही तरह यात्रियों के परिजन, सी ऑफ या रिसीव करने जा सकेंगे।

20 रुपए में प्लेटफार्म टिकट

प्लेटफार्म टिकट की सुविधा फिर से चालू किए जाने के बाद बच्चों, बुजुर्गों और दिव्यांग यात्रियों को बेहद राहत मिलेगी क्योंकि इसके बंद होने के बाद ऐसे यात्री स्टेशन के बाहर से प्लेटफार्म या प्लेटफार्म से बाहर निकलने के दौरान सह यात्रियों की मदद लेने को मजबूर थे। प्लेटफार्म पर बिना रिजर्वेशन टिकट के प्रवेश की अनुमति नहीं होने से परिजन भी बेबस थे। अब ऐसे यात्रियों के परिजन 20 रुपए की प्लेटफार्म टिकट लेकर यह सुविधा हासिल कर सकेंगे।


ये कब होगी चालू

अशक्त या बीमार यात्रियों के लिए चालू की गई बैटरी कार की सुविधा भी 1 साल से बंद है। यह कब चालू होगी? इसे लेकर कोई जवाब नहीं मिल रहा है। ऐसे में स्थानीय रेल प्रशासन की व्हीलचेयर की सुविधा कभी मिलती है, तो कभी नहीं मिलती। ऐसा इसलिए क्योंकि लाने और ले जाने के लिए जरूरी, कुली भी अपनी पूरी संख्या के साथ काम पर नहीं लौटे हैं। लिहाजा अब इसे भी फिर से प्लेटफार्म पर लाने के प्रयास की खबर है।