कन्टेनमेंट जोन में सरकारी वाट्सएप ग्रुप बने ‘जीवन का आधार’

कन्टेनमेंट जोन में सरकारी वाट्सएप ग्रुप बने ‘जीवन का आधार’


नयी दिल्ली।  दिल्ली सरकार ने लॉकडाउन के दौरान कंटेनमेंट जोन अथवा सील किये गए इलाकों में लोगों की समस्याओं को हल करने तथा उनको जरूरत के सामानों को आसानी से मुहैया कराने के लिए एक वाट्सएप ग्रुप बनाया है, जहां लोग अपनी जरूरतों की मांग रखते हैं और सरकार उन मांगोें के आधार पर आपूर्ति शीघ्र सुनिश्चित करती है।

दिल्ली सरकार की ओर से एक बयान जारी कर आज कहा गया कि सरकार ने कोरोना वायरस ‘कोविड-19’ के प्रसार को रोकने के लिए लगभग 57 क्षेत्रों को कंटेनमेंट जोन के रूप में चिह्नित किया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में सरकार इन कंटेनमेंट जोन के निवासियों को सभी आवश्यक सेवाएं उपलब्ध कराना सुनिश्चित कर रही है ताकि कंटेनमेंट जोन के लोगों को किसी भी आवश्यक सेवाओं की आपूर्ति के लिए अपने घर से बाहर नहीं जाना पड़े। दिल्ली सरकार ने प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में रहने वाले निवासियों को भोजन, राशन, चिकित्सा आदि की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए नोडल अधिकारियों की टीम गठित किया है और सभी निवासियों में उनके नंबर वितरित किये गये हैं। 

chandra shekhar