breaking news New

अंसारी मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला, कांग्रेस-आपराधिक सांठगांठ का सबूत

अंसारी मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला, कांग्रेस-आपराधिक सांठगांठ का सबूत


चंडीगढ़।  पंजाब प्रदेश भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) अध्यक्ष अश्विनी शर्मा ने कहा है कि पंजाब की रोपड़ जेल में बंद एक गैंगस्टर को उत्तरप्रदेश की जेल में स्थानांतरित करने के उच्चतम न्यायालय के आदेश ने पंजाब सरकार और अपराधियों की कथित सांठगांठ को उजागर किया है।
श्री शर्मा ने आज यहां जारी एक वक्तव्य में कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा हत्या के मामले में वांछित एक गैंगस्टर को कथित तौर पर आश्रय और सुरक्षा प्रदान करना राज्य सरकार की आपराधिक साजिश को उजागर करता है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से न्यायालय ने पंजाब कि हिरासत से अंसारी को उत्तर प्रदेश को सौंपने के निर्देश दिये हैं वह अमरिंदर सिंह सरकार पर एक धब्बा है।
प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि अंसारी जनवरी 2019 से पंजाब की रोपड़ जेल में बंद हैं तथा उत्तर प्रदेश में अनेक आपराधिक मामलों में वांछित है। अंसारी उत्तर प्रदेश की विभिन्न अदालतों द्वारा उसके खिलाफ जारी किए गए 26 वारंट पर अपनी बीमारी को आधार बना कर अब पेशी से बचता रहा है। उन्होंने दावा किया कि सरकार के लिए शर्म की बात है कि उसके एक कैबिनेट मंत्री सुखजिंदर रंधावा भी उत्तर प्रदेश गए और अंसारी के रिश्तेदारों को आश्वासन दिया कि उसे पंजाब की जेल में आराम और सभी सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं।
श्री शर्मा ने कहा कि इस घटना ने कांग्रेस की उत्तर प्रदेश और देश के अन्य हिस्सों में आपराधिक तत्वों के साथ सांठगांठ को उजागर कर दिया है। उन्होंने आरोप लगाया कि अपराधियों को संरक्षण देना कांग्रेस की पुरानी संस्कृति रही है जिसे उच्चतम न्यायालय ने बेनकाब कर दिया है।