breaking news New

माइक्रोसॉफ्ट सीईओ बोले, 20 करोड़ विद्यार्थियों व शिक्षकों का हमारे ही प्रोडक्ट्स पर भरोसा

माइक्रोसॉफ्ट सीईओ बोले, 20 करोड़ विद्यार्थियों व शिक्षकों का हमारे ही प्रोडक्ट्स पर भरोसा


नई दिल्ली, 27 जनवरी। विश्व की प्रमुख सॉफ्टवेयर कम्पनी माइक्रोसॉफ्ट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) सत्या नडेला ने कहा है कि दुनियाभर में 20 करोड़ से भी अधिक विद्यार्थी एवं शिक्षक रिमोट लर्निग के लिए फिलहाल माइक्रोसॉफ्ट एजुकेशन प्रोडक्ट्स पर ही भरोसा करते हैं।

कम्पनी की दूसरी तिमाही (2021) के सिलसिले में मंगलवार को आयोजित बैठक में विश्लेषकों से विचार-विमर्श के दौरान नडेला ने कहा कि आर्टिफिसियल इंटेलिजेंस (एआई) के क्षेत्र में कम्पनी सबसे बेहतरीन उपकरण, फ्रेमवर्क और इन्फ्रास्ट्रक्चर मुहैया करवाती है।

नडेला ने कहा कि हम ऐसी टीम बनाते हैं जिसमें बहुमुखी क्षमताओं का समावेश होता है। इसमें आपस में बातचीत होती है, बैठकें होती हैं, कारोबार आगे बढ़ाने के लिए करार सम्बंधी योजनाओं पर चर्चा होती है। और, यह सब एक ही छत के नीचे होती है।

माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ ने कहा कि एसएपी, सर्विसनाउ और सेल्सफोर्स जैसे महत्वपूर्ण ऐप बहुत तेजी से हमारी टीमों का हिस्सा बन रहे हैं ताकि टीमों की पूरी क्षमता एकीकृत हो जाए और इसके अहम सकारात्मक नतीजे सामने आएं।

उन्होंने कहा कि कोविड महामारी के दौरान हमने देखा है कि सही तकनीकों ने किस तरह दुनिया भर में लगभग दो अरब फ्रंटलाइन वर्कर्स को सशक्त किया है। इसमें हमारी टीमों ने अग्रणी भूमिका निभाई है।

वर्ष 2020 के अंत तक माइक्रोसॉफ्ट टीमों की पहुंच 11.5 करोड़ से भी ज्यादा डेली यूजर्स तक हो गई थी। नडेला ने हाल ही में कहा था कि ये टीमें इंटरनेट ब्राउजर्स और ऑपरेटिंग सिस्टम्स के रूप में भी जल्द ही अहम भूमिका निभाने में सक्षम साबित होंगी। पिछल सप्ताह इंटरप्राइज एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर प्रोवाइडर – एसएपी और माइक्रोसाफ्ट ने वीडियो कॉन्फ्रेंस और कोलाबोरेशन प्लेटफॉर्म टीमों को एसएपी इंटेलिजेंट सूट ऑफ सल्युशन्स को इंटिग्रेट करने का ऐलान किया था। उन्होंने यह भी कहा कि डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन की आवश्यकता पहले के मुकाबले अब और बढ़ गई है।