breaking news New

BREAKING : आनलाईन ठगी का फरार मास्टरमाइंड दिल्ली एयरपोर्ट से गिरफ्तार

BREAKING : आनलाईन ठगी का फरार मास्टरमाइंड  दिल्ली एयरपोर्ट से गिरफ्तार

रमेश गुप्ता

भिलाई ..आनलाईन ठगी का फरार मास्टर माईन्ड आरोपी  इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट दिल्ली  में चढ़ा पुलिस के हत्थे।

पूर्व में प्रकरण के 04 आरोपियों को फरीदाबाद,हरियाणा से किया जा चुका है गिरफ्तार। प्रकरण में 03 आरोपी थे फरार।

बताया जाता है कि   डॉ0 अभिषेक पल्लव (भापुसे) पुलिस अधीक्षक दुर्ग के निर्देशन में  संजय ध्रुव (रापुसे) अति. पुलिस अधीक्षक महोदय (शहर) दुर्ग एवं श अभिषेक झा (रा.पु.से.) नगर पुलिस अधीक्षक महोदय दुर्ग के मार्गदर्शन में लगातार बढ़ते अपराधों पर नियंत्रण व अंकुश लगाने हेतु त्वरित कार्यवाही की जा रही है, इसी क्रम में  25 जनवरी को प्रार्थी अनुरंजन कुमार प्रियदर्शी ब्रांच मैनेजर भारतीय स्टेट बैंक दुर्ग को फोन कर ठगो द्वारा अपने झांसे में लेकर कैलाश मध्यानी पार्टनर वेंकटेश मोटर्स रायपुर से बोल रहां हूं कह कर RTGS के माध्यम से अपने विभिन्न खातो में पृथक-पृथक कुल रकम 18,24,780/ रूपये ट्रांसफर करवा लिया गया। प्रार्थी की रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 26/2022 धारा 420,34 भादवि एवं 66-डी आईटी एक्ट पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। 

           प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा घटना के आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तारी करने निर्देशन दिये गये। प्रकरण की विवेचना के दौरान आरोपी दिगर राज्यो से संबंधित होने से वरिष्ठ कार्यालय से आरोपी की पतासाजी,गिरफतारी हेतु टीम गठित कर टीम को दिल्ली,हरियाणा रवाना किया गया। आरोपीगणो की पता तलाश कर प्रकरण के आरोपी (1) विकास ढींगरा (2) मुन्ना साव (3) पवन मांझी (4) पुनीत गौतम उर्फ डम्पी को पकड़ा गया जो अन्य व्यक्तियों के बैंक खातो,मोबाईल सिमो का उपयोग कर अपने अन्य साथी करन कपूर, राजन कपूर, विनय यादव उर्फ बबलू के साथ मिलकर जुर्म कबूल किये।

आरोपियो को  10 फरवरी को फरीदाबाद,हरियाणा से गिरफतार कर आरोपीगणो को ज्युडिषियल रिमाण्ड पर भेजा गया था। प्रकरण में फरार आरोपी राजन कपूर के विदेश भाग जाने की सूचना के आधार पर पासपोर्ट कार्यालय से पासपोर्ट की जानकारी लेकर LOC (लुक आउट सर्कुलर) नोटिस जारी कराया गया था।

जो  04 मई के मध्य रात्रि इंदिरा गांधी इन्टरनेशनल एयरपोर्ट दिल्ली से सूचना मिली की उक्त व्यक्ति को एलओसी के आधार पर पकड़ा गया है। सूचना को वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराकर रात्रि में ही उप निरीक्षक राजीव तिवारी एवं आरक्षक जुगनु सिंह की टीम को दिल्ली भेजा गया जो उक्त व्यक्ति को ट्रांजिस्ट रिमाण्ड पर दुर्ग लाया जा रहां है। बाद अग्रिम कार्यवाही की जाती है।  

उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी मोहर नगर , उप निरीक्षक राजीव तिवारी एवं आरक्षक जुगनु सिंह थाना भिलाई नगर जिला दुर्ग की विशेष भूमिका रहीं।