breaking news New

गोदाम अंदर घुसकर तेल टीपा एवं अन्य सामान चोरी करने वाला आरोपी गिरफ्तार

गोदाम अंदर घुसकर तेल टीपा एवं अन्य सामान चोरी करने वाला आरोपी गिरफ्तार

  धमतरी।   प्रशांत खंडेलवाल पिता दिलीप खंडेलवाल निवासी गुजराती कॉलोनी धमतरी ने रिपोर्ट दर्ज कराया कि उसके नया बस स्टैंड के पीछे स्थित अनाज व किराना गोदाम में कोई अज्ञात चोर दिनांक 22/05/2021 की शाम करीबन 5:00 बजे से दिनांक 24/05/2021 के सुबह 8:30 बजे के मध्य गोदाम में लगी खिड़की के नीचे दीवार तोड़कर अंदर घुसकर तेल टीपा, शक्कर बोरी, आटा बोरी, गुड का कार्टून चोरी कर ले गया। उक्त रिपोर्ट पर अज्ञात आरोपी के विरुद्ध अपराध  धारा 457, 380 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

         पुलिस अधीक्षक  बी.पी. राजभानू ने चोरी गए मशरूका एवं अज्ञात आरोपी की पता तलाश कर त्वरित वैधानिक कार्यवाही करने थाना प्रभारी कोतवाली को निर्देशित किया गया। थाना प्रभारी कोतवाली नवनीत पाटिल ने घटनास्थल का निरीक्षण करते हुए थाना स्तर पर टीम तैयार कर तत्काल अज्ञात आरोपी एवं चोरी गये माल की पतासाजी हेतु रवाना किये। पुलिस टीम के द्वारा घटनास्थल एवं उसके आसपास उपलब्ध तकनीकी साक्ष्य को संग्रहित कर बारीकी से अवलोकन किया तथा मुखबिर सूचना के आधार पर संदेही नीलेश राव को अभिरक्षा में लेकर कड़ाई से पूछताछ किया गया। पूछताछ में उसने बताया कि उक्त गोदाम में चोरी करने के लिए वह मौके की तलाश कर रहा था कि रविवार को संपूर्ण लॉक डाउन होने से उसका फायदा उठाने की नीयत से रात्रि में गोदाम की खिड़की के नीचे की दीवार तोड़कर गोदाम अंदर घुसकर चोरी किया। चोरी किए गए सामान को कुछ दूर गड्ढे में झाड़ियों के बीच छिपाकर रख दिया। जिसकी निशानदेही पर 06 नग मनभावन ब्रांड का रिफाइंड सोयाबीन तेल प्रत्येक वजनी 15 किलोग्राम कीमती ₹15000/- को बरामद किया गया। मामले की विवेचना क्रम में विधिवत कार्यवाही करते हुए आरोपी नीलेश राव के मेमोरेंडम कथन व उपलब्ध साक्ष्य के आधार पर विधिवत गिरफ्तार किया गया। आरोपी नीलेश राव को आज न्यायिक रिमांड हेतु माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जा रहा है।

गिरफ्तार आरोपी का नाम- नीलेश राव पिता प्रकाश राव उम्र 32 वर्ष साकिन बांसपारा सुलभ शौचालय के पास धमतरी थाना कोतवाली जिला धमतरी

        थाना प्रभारी कोतवाली नवनीत पाटिल के दिशा निर्देश में चंद घंटे के भीतर आरोपी की पतासाजी कर बरामदगी करने में उप निरीक्षक हृदय वर्मा, आरक्षक विकास द्विवेदी, अंकुश नंदा, डुगेश्वर साहू, सागर मिश्रा एवं हरीश सिन्हा का विशेष योगदान रहा।