breaking news New

तमिलनाडु में एलपीजी सिलेंडर के विस्फोट के कारण दीवार ढहने से दो महिलाओं और एक किशोर की मौत, चार अन्य गंभीर

तमिलनाडु में एलपीजी सिलेंडर के विस्फोट के कारण दीवार ढहने से दो महिलाओं और एक किशोर की मौत, चार अन्य गंभीर

चेन्नई।  तमिलनाडु के तिरुवन्नमलाई जिले के अरनी शहर में एलपीजी सिलेंडर के विस्फोट के कारण दीवार ढहने से दो महिलाओं और एक किशोर (आठ वर्ष) की मौत हो गयी तथा चार अन्य गंभीर रूप से घायल हो गये।

इस बीच मुख्यमंत्री ई के पलानीस्वामी ने इस घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया है तथा मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये सहायता राशि देने की घोषणा की है।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि मृतक की पहचान कामाक्षी, उसके पुत्र हेमंत और चंद्रमामल के रूप में की गयी है।

पुलिस के मुताबिक एलपीजी सिलेंडर में विस्फोट मुक्ता बाई नाम की महिला के घर में हुई जो अपनी बेटी मीरा (15) के साथ रहती है। उसने अपने घर का एक हिस्सा जानकीरमन (40) को दे रखी थी जो अपनी पत्नी कामाक्षी (38) और दो बेटों सुरेश (15) और हेमंत के साथ रहते थे।

गैस के लीक होने से अनभिज्ञ मुक्ता ने बगैर रसोइघर की खिड़की खोले बिना स्टोव जलायी जिसके कारण सिलेंडर में विस्फोट हुआ। रसोइघर की खिड़की शनिवार रात हुई भारी बारिश के कारण बंद थी।

विस्फोट का असर इतना भयावह था कि इसने मुक्ता के घर के साथ इससे सटे एक पुराने घर को भी पूरी तरह क्षतिग्रस्त कर दिया। इसके कारण दीवारें भी ढह गयीं।

दीवार का एक हिस्सा ढहकर वहां गिरा जहां जानकीरमन और असका परिवार साेया हुआ था। दीवार का दूसरा हिस्सा मुक्ता की पड़ोसी चंद्रमामल के घर पर गिरा जहां वह सोयी हुयी थी।

इस हादसे में मुक्ता बाई और मीरा बाई क्रमश: 90 फीसदी एवं 50 प्रतिशत झुलस गयी हैं। इस घटना में जानकीरमन और उनका बेटा सुरेश भी गंभीर रूप से घायल है। चारों काे एक सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

जिलाधिकारी के एस कंडासामी ने पुलिस अधीक्षक एस अरविंद के साथ घटनास्थल का दौरा किया। उन्होंने कहा कि घटना के बारे में सरकार को एक रिपोर्ट भेजी गयी है।

इस बीच मुख्यमंत्री ने कहा कि इस हादसे में गंभीर रूप से घायलों को मुख्यमंत्री सार्वजनिक राहत कोष से एक-एक लाख रुपये तथा मामूली रुप से घायलों को 50-50 हजार रुपये दिये जायेंगे।

श्री पलानीस्वामी ने घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करते हुए लोगों से एलपीजी गैस सिलेंडर का उपयोग करते समय अत्यधिक सावधानी बरतने की अपील भी की।