breaking news New

खिलाडिय़ों की 7 सूत्रीय मांगों को लेकर छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस ने लिखा मुख्यमंत्री को पत्र

खिलाडिय़ों की 7 सूत्रीय मांगों को लेकर छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस ने लिखा मुख्यमंत्री को पत्र

रायपुर । छत्तीसगढ़ प्रदेश कॉंग्रेस कमेटी (खेलकूद प्रकोष्ठ) के प्रदेश अध्यक्ष प्रवीण जैन ने प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पत्र भेज कर कहा है कि आपके नेतृत्व में सरकार किसानों के बाद यदि सबसे ज्यादा लोकप्रिय है तो वह प्रदेश के खेल जगत में है, क्योंकि प्रदेश गठन के बाद पहली बार प्रदेश के खेल जगत को एक खिलाड़ी मुख्यमंत्री के रूप में मिला है, आपके मुख्यमंत्री बनने से सम्पूर्ण खेल जगत आपसे भारी आस लगाए हुए है और आप भी विभिन्न अवसरों पर अपने खेल प्रेम को जाहिर कर खिलाडिय़ों के मनोबल को बढ़ाते हैं। मुख्यमंत्री बनते ही आपने सबसे पहला काम खेल विकास प्राधिकरण बना कर छत्तीसगढ़ के खिलाडिय़ों की वर्षों पुरानी मांग पूरी की है, आपने बस्तर से लेकर सरगुजा तक विभिन्न मल्टीपर्पज स्पोट्र्स इनडोर व आउटडोर स्टेडियमों की सौगातें दी हैं, आपने 1998 के बाद पहली बार 745 पदों पर पूर्ण कालिक व्यायाम शिक्षकों व विभिन्न विश्वविद्यालयों में खेल अधिकारियों की नियुक्तियां की है किन्तु वैश्विक कोरोना महामारी की वजह से खेल सुधार में किए जा रहे कार्यों में विघ्न उत्पन्न हुआ है साथ ही महामारी से खेल जगत को भी काफी नुकसान उठाना पड़ा है। प्रवीण जैन ने खिलाडिय़ों की ओर से मांग करते हुए कहा है कि प्रदेश में 2015 के बाद से उत्कृष्ट खिलाडिय़ों के नामों की घोषणा नही हुई है, भाजपा सरकार द्वारा चुनावों में राजनैतिक लाभ उठाने के उद्देश्य से चुनावों के दरम्यान नवंबर 2018 में खिलाडिय़ों को गुमराह करने आवेदन मंगवाया था, जिस पर कोई कार्यवाही नही की थी।
हमारी सरकार ने 25 फरवरी 2020 को उचित कार्यवाही करने के उद्देश्य से उत्कृष्ट खिलाडिय़ों से आवेदन मंगवाया था, किंतु मार्च माह से लगातार विश्वव्यापी कोरोना महामारी की वजह से लगातार कार्य में व्यवधान आने से नामों की घोषणा अटकी पड़ी है, जिस वजह से हजारों खिलाडिय़ों को रोजगार के अवसर नही मिल पा रहे हैं। प्रदेश सरकार द्वारा विगत वर्ष व्यायाम शिक्षको के 745 पदों में भर्ती के लिए  आवेदन मंगवाया गया था, जिसकी सारी प्रक्रिया पूर्ण कर ली गई है, कोविड संक्रमण की वजह से सभी शैक्षणिक संस्था विगत 2 सत्र से बंद है, जिस वजह से व्यायाम शिक्षकों को नियुक्ति पत्र प्रदान नही किया जा सका है, मेरा आप से आग्रह है नवीन शैक्षणिक सत्र प्रारम्भ होते ही अविलंब व्यायाम शिक्षकों को नियुक्ति पत्र प्रदान करने आवश्यक कार्यवाही की जानी चाहिए। छत्तीसगढ़ में हृढ्ढस् प्रशिक्षकों/कोच व खेल अधिकारियों की नियुक्तियां काफी समय से नही हो पाई है, आपसे आग्रह है कि संबंधित विभागीय अधिकारियों को शीघ्र कार्यवाही हेतु निर्देशित करेंगे। आपके द्वारा खेल विकास प्राधिकरण की घोषणा की गई है, जिसका कार्य तीव्र गति से चल रहा था, किन्तु कोविड का ग्रहण इसकी प्रक्रिया पर भी पड़ा है, खेल विकास प्राधिकरण को शीघ्र अस्तित्व में लाने का दिशा निर्देश संबंधित अधिकारियों को देंगे।  छत्तीसगढ़ प्रदेश के खिलाडिय़ों को आगे बढ़ाने के लिए क्षेत्रीय स्तर पर आयोजित होने वाले पेशेवर खेलों के आयोजनों के लिए अंतराष्ट्रीय, राष्ट्रीय स्तर के हमारे आऊटडोर एवं इन्डोर स्टेडियमों को कम से कम दर पर उपलब्ध कराये जाने की मांग आपके समक्ष रखता हूँ ताकि ज्यादा से ज्यादा प्रतियोगिताएं आयोजित की जा सकेंगी, जिससे खिलाडिय़ों को अधिक अवसर दिया जा सकता है। छत्तीसगढ़ में खेल विश्वविद्याल खोले जाने आवश्यक है। प्रदेश के खिलाडिय़ों को सरकारी व प्राइवेट सेक्टर में खास कर हमारे दिव्यांग खिलाडिय़ों को अधिक से अधिक रोजगार के अवसर मिल सके, इसके लिए योजना बनाई जानी चाहिए। प्रवीण जैन ने पत्र में कहा है कि खिलाडिय़ों की भावना के अनुरूप 7 सूत्रीय मांगों को रखते हुए शीघ्र कार्यवाही सुनिश्चित करने की मांग की है।