कोरोनाः मृतकों का आंकड़ा 100 के पार, कुल मामले 4,200 से ज्यादा

कोरोनाः मृतकों का आंकड़ा 100 के पार, कुल मामले 4,200 से ज्यादा

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस से पीड़ितों की मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। पिछले 24 घंटे में हुई 27 मौतों के बाद इस वायरस की वजह से मृतकों की कुल तादाद 100 को पार कर गई है। रविवार को कम स कम 12 लोगों की मौत हुई है। देशें में कोरोना वायरस के पीड़ितों की संख्या में भी तेजी से इजाफा हो रहा है। भारत में कोरोना के कुल मामले 4,000 को पार कर चुके हैं।

लगातार चौथे दिन सामने आए 500 से ज्यादा मामले
रविवार को लगातार चौथ दिन मरीजों की संख्या में 500 से ज्यादा की वृद्धि हुई, विभिन्न राज्यों से कुल 541 मामले सामने आए चार दिनों में देश में कोरोना के मामलों में दोगुने को बढ़ोतरी हुई है। 1 अप्रैल तक जहां देश में 2,000 से थोड़े ज्यादा मामले आए थे,. वहीं 5 तारीख आते-आते कोरोना के कुल केस 4,200 के आकंड़े को पार कर गए हैं।

कुल मामलों में 30 फीसदी का तबलीगी जमात से लिंक
केंद्र के डेटा से यह भी पता चला है कि मामलों में अचानक आई इस तेजी का कनेक्शन तबलीगी जमात से है। अगर तबलीगी जमात के सदस्यों के कोरोना से पीड़ित होने के मामले इतने बड़े स्तर पर सामने नहीं आते तो पीड़ितों की कुल संख्या कम से 7.4 दिनों में दोगुनी होने का अनुमान था, लेकिन जमात के सदस्यों की वजह से देशभर में कोरोना के मामले सामने आने के बाद अब 4.1 दिन में ही मामले दोगुने हो गए हैं।

संयुक्त स्वास्थ्य सचिव लव अग्रवाल ने रविवार को कहा, 'कोरोना के मामलों के दोगुना होने की दर अभी 4.1 दिन है, लेकिन अगर तबलीगी जमात का कार्यक्रम नहीं होता तो यह दर 7.4 होती।' स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में सामने आए कुल मामलों में 30 फीसदी का कनेक्शन तबलीगी जमात से है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने अब तक 3,374 मामलों की ही पुष्टि की है
आपको बता दें कि स्वास्थ्य मंत्रालय के आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार अभी देश में 3,374 मामलों और 79 मौतों की ही पुष्टि हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों और वास्तविक आंकड़ों में अंतर की बड़ी वजह राज्यों के आंकड़ों की पुष्टि करने में लगने वाला वक्त है। स्वास्थ्य मंत्रालय राज्यों से कोरोना के नए मामले सामने आने के बाद आंकड़ों को वेरिफाई करता है, उसके बाद ही आधिकारिक ताजा आंकड़े जारी किए जाते हैं।