सुशांत की मौत की की गुत्थी सुलझाने में सभी पहलुओं की जांच जारी : सीबीआई

सुशांत की मौत की की गुत्थी सुलझाने में सभी पहलुओं की जांच जारी : सीबीआई

नयी दिल्ली .बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच कर रही केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने कहा है कि सुशांत की मौत से संबंधित सभी पहलुओं और पक्षों की जांच की जा रही है और किसी भी प्रकार की संभावना से अब तक इनकार नहीं किया गया है।

सीबीआई ने सोमवार रात को एक वक्तव्य जारी कर यह स्पष्ट किया। वक्तव्य के मुताबिक जांच एजेंसी सुशांत सिंह राजपूत की मौत से संबंधित सभी पहलुओं की पेशेवर तरीके से जांच कर रही और इस मामले में जांच अब भी जारी है।

सीबीआई ने वक्तव्य में कहा, “ केन्द्रीय जांच ब्यूरो सुशांत सिंह राजपूत की हत्या से संबंधित सभी पहलुओं की पेशेवर तरीके से जांच कर रही और अब तक किसी भी पक्ष से इनकार नहीं किया गया है। इस मामले में जांच अब भी जारी है।”

दरअसल, मुंबई पुलिस के कथित रूप से सुशांत की मौत की गुत्थी सुलझाने में विफल रहने के बाद उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद इस मामले की जांच सीबीआई को सौंपी गयी है।

सुशांत के परिवार ने इस बात को लेकर नाराजगी व्यक्त की थी कि अभिनेता की मौत की सीबीआई जांच को किनारे कर दिया गया है और उसकी बजाए नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) बॉलीवुड में ड्रग्स मामले की जांच में जुट गयी है।

सीबीआई ने सुशांत के शव का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों से भी मुलाकात कर पूछताछ की थी। इसके अलावा एम्स के विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम ने भी सुशांत के शव का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों से चर्चा की थी। इस मामले में एम्स की टीम ने आज सीबीआई को रिपोर्ट सौंप दी है।

गौरतलब है कि बिहार के रहने वाले 34 वर्षीय अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत 14 जून को मुंबई में अपने घर में मृत पाए गए थे। उच्चतम न्यायालय के निर्देश पर इस मामले की जांच मुंबई पुलिस से सीबीआई को सौंप दी गयी थी।

सुशांत सिंह के पैसों का दुरुपयोग होने की बात सामने आने के बाद प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) भी इस मामले की जांच कर रहा है। सुशांत की मौत के मामले में मादक पदार्थों की भूमिका होने के बाद इस मामले में नया माेड़ आ गया है। इस मामले में एनसीबी अब तक आठ लोगों काे गिरफ्तार कर चुकी है। इस मामले में सबसे प्रमुख संदिग्ध रिया चक्रवर्ती के भाई शौविक तथा सुशांत के घर प्रबंधक सैमुअल मिरांडा को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है।