breaking news New

दंतेवाड़ा कलेक्टर बने टीचर समझाया कोरोना प्रबंधन

दंतेवाड़ा कलेक्टर बने टीचर समझाया कोरोना प्रबंधन

 दंतेवाड़ा।  कलेक्टर  दीपक सोनी बने टीचर और समझाया व्यक्तिगत कोरोना प्रबंधन। जिले में बढ़ते हुए कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए जिले वासियों को कोरोना के संक्रमण से बचने एवं सुरक्षित रहने के लिए जानकारी दिये। श्री सोनी ने बताया कि लक्षण हमारे शरीर में मौजूद होते है लेकिन हम उनको नजर अंदाज कर लेते है। उसके कारण क्या होता है जब आप जॉच कारवाते है तो बहुत देरी हो चुकी होती है तो आज कुछ हम बात कर रहे लक्षणों की कोरोना की समान्य लक्षण क्या है सर्दी, कार्सी, बुकार, स्वाद न आना, गले में खराश, खुजली, दस्त, ऑख आना, सरर्दद, त्वचा पर चकत्ते आना, हाथ-पैरो का रंग बदलना और कुछ गंभीर लक्षण श्वास लेने में दिक्कत सीने में दबाव या दर्द, बोलने, चलने-फीरने में असमतर्था। अगर ऐसा कोई लक्षण प्रतीत होता है तो तत्काल फीवर क्लिनिक में जाकर कोरोना टेस्ट करवाये साथ ही उसी समय से डॉक्टर या जिला प्रशासन द्वारा दिये हुए दवाई के किट में से दवाई की परची के अनुसार दवाइयों का सेवन करें। रिपोर्ट आने तक स्वयं को आईसोलेट कर ले अपने परिवार के सदस्यो से भी दूरी बनाये रखे एवं मास्क लगायें।

जैसे ही रिपोर्ट आये उसके अनुसार उपचार ले। टेस्टिंग एवं रिपोर्ट आने में समय लगता हैं इस दौरान किसी भी व्यक्ति कि तबीयत ज्यादा खराब न हो अतः तत्काल दवाई लेना प्रांरभ करे बिल्कुल भी देर न करें। जिला प्रशासन द्वारा समस्त जिले वासियों को कोरोना वायरस से बचाने के लिए प्रोफिलेक्टिक ट्रीटमेन्ट दिया जा रहा है। जिसमें सभी के लिए दवाइयों का किट निःशुल्क दिया जा रहा है। नगर पालिका एवं नगर पंचायत में  दवाइयों के किट को समस्त घरों में बंटा जायेगा एवं ग्राम पंचायत में कोरोना जागरूकता दल के पास रहेगा।

जिनको कोरोना के लक्षण महसूस हो वे तुंरत दवाइयों का सेवन करें ताकि कोरोना के गंभीर लक्षणों से बचा जा सके। किसी भी प्रकार के सुविधा या जानकारी जिले वासियों को चाहिए तो कोविड कंट्रोल रूम पर 07856-252412,75871-32545 पर संपर्क करे साथ ही अन्य सुविधाओं के लिए भी जिला प्रशासन ने नंबर जारी किये है उनका सहयोग लें। श्री सोनी ने समस्त 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को टीका लगवाने एवं 18 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों को टीकारण के बारे में बताया। लॉकडाउन का पालन करने एवं आवश्यक कार्य पड़ने पर ही अच्छे से मास्क लगा कर घर से बाहर निकलने के लिए कहा साथ ही बार-बार हाथ धोने या सेनेटाईज करने की भी जानकारी दी।