breaking news New

विधानसभा की झ​लकियां, कांग्रेस विधायक दल ने वोरा को दी श्रद्धांजलि, आज विधानसभा में श्रद्धांजलि देने के बाद दुर्ग रवाना होंगे सभी कांग्रेस नेता

विधानसभा की झ​लकियां, कांग्रेस विधायक दल ने वोरा को दी श्रद्धांजलि, आज विधानसभा में श्रद्धांजलि देने के बाद दुर्ग रवाना होंगे सभी कांग्रेस नेता
  • अनिल द्विवेदी

रायपुर. अकस्मात बुलाई गई कांग्रेस विधायक दल की बैठक मुख्यमंत्री निवास पर संपन्न हुई. बैठक के दौरान सबसे पहले दिवंगत वरिष्ठ कांग्रेस नेता मोतीलाल वोरा को श्रद्धांजलि दी गई। इस दौरान यह तय किया गया कि कल विधानसभा में मोतीलाल वोरा को श्रद्धांजलि देने के बाद सभी कांग्रेस नेता उनके अंतिम संस्कार में शामिल होने दुर्ग के लिए रवाना होंगे।

वहीं, बैठक के दौरान विधानसभा में विपक्ष का किस तरीके से सामना करना है, इसको लेकर रणनीति बनी है. विधानसभा सत्र के दौरान विपक्ष के सभी सवालों का जवाब तथ्यों के साथ किस तरीके से दिया जाए इस पर भी चर्चा हुई और निर्देश दिए गए हैं.

दूसरी ओर विपक्षी भाजपा के विधायकों की बैठक विधानसभा में ही नेता प्रतिपक्ष धरम लाल कौशिक के कार्यालय में संपन्न हुई. इसमें तय किया गया कि सत्ता पक्ष को घेरने के लिए एकजुट होकर सर्वमतेन मुददे तय किए गए. संभावना है कि भाजपा फिर से किसानों का मुददा उठा सकती है.

  • विधानसभा की झलकियां


विधानसभा में आज विपक्ष की ओर से कमान विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने संभाल रखी थी. उन्हीं के नेतृत्व में विधायकों ने नारेबाजी की और फिर निलंबित हो गए.

मंत्री अमरजीत भगत की भाजपा विधायक अजय चंद्राकर पर की गई एक चुटीली टिप्पणी ने सदन से ठहाके लगवा दिए.

पुलिस महानिदेशक डी एम अवस्थी भी विधानसभा पहुंचे. इस दौरान उनका स्वागत आईजी आनंद छाबड़ा ने किया. एसएसपी अजय यादव भी अपनी टीम के साथ पहुंचे थे.

वन मंत्री मोहम्मद अकबर इस गुत्थी में उलझे हुए थे कि संसदीय सचिवों का जो मुददा भाजपा ने उठाया है, उसका क्या जवाब दिया जाए. इसके लिए उन्होंने हाईकोर्ट की टिप्पणी का सहारा लिया.

भाजपा विधायक दल की बैठक नेता प्रतिपक्ष धरम लाल कौशिक के कमरे में हुई जहां दूसरे दिन की कार्यवाही की रणनीति तैयार की गई.

विधायक सत्यनारायण शर्मा अध्यक्ष की आसंदी पर पहुंचे तो विपक्ष खुश हो गया. कुछ देर बाद जब शर्मा ने भाजपा विधायकों को कल तक के लिए निलंबित कर दिया तो सत्ता पक्ष के विधायक हंसते हुए बोले और भरोसा जताओ.

विधानसभा अध्यक्ष डॉ.चरणदास महंत की अनुपस्थिति चर्चा का विषय रही.

इलेक्ट्रॉनिक मीडिया को बाइट देने का स्थान परिवर्तन किया जाना भी चर्चा का मुददा रहा.