breaking news New

8 सूत्रीय मांग को लेकर दिव्यांगजनों व वृद्धजनों ने तहसील मुख्यालय के सामने दिया धरना

8 सूत्रीय मांग को लेकर दिव्यांगजनों व वृद्धजनों ने तहसील मुख्यालय के सामने दिया धरना

तहसील मुख्यालय मालखरौदा में दिव्यांगजनों, वृद्धजनों, विधवाओं, परित्यक्ताओं के द्वारा 8 सूत्रीय मांग को लेकर शासन सत्ता के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते हुए धरना दिया। इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नाम तहसीलदार को ज्ञापन दिया।

दिव्यांगजनों ने बताया कि निम्न 8 सूत्रीय जायज हमारी मांग है जो इस प्रकार है।

1. दिव्यांगजनों की पेन्शन की राशि को 500 / - रू . से बढ़ाकर 3000 / - करने का कष्ट करें । 

2. परिवार चला रहे दिव्यांगजनों की पेन्शन राशि को 500 / - से 5000 / - प्रदान करने की कृपा करें ताकि उनके वे अपने आश्रितों एवं बच्चों को मूलभूत आवश्यकताओं को पूरा कर सके । 

3 . दिव्यांगजनों के राशनकार्ड जारी करने हेतु 2002 एवं एसईसीसी 2011 की जनगणना सूची में शामिल होने की अनिवार्यता को समाप्त करने का कष्ट करें। 

4. दिव्यांगजनों को राशनकार्ड में निःशुल्क राशन प्रदान करें। 

5 . दिव्यांगजनों को बिना ब्याज के स्वरोजगार हेतु लोन प्रदान कर उन्हें आर्थिक रूप से स्वालम्बन की ओर अग्रसर होने का अवसर प्रदान करें। 

6 . दिव्यांगों को बिजली मुफ्त की सुविधा प्रदान करें। 

7. दिव्यांजनों को हाट -बाजार कर से मुक्त करने का कष्ट करें। 

8. विधवाओं, परित्यक्ताओं, निःशक्तजनों एवं वृद्धजनों की पेन्शन राशि को 350 रू. से बढ़ाकर 1500 रू .किया जाए।

इन जायज मांग को लेकर क्षेत्र के सामाजिक मुख्याओ ने धरना का समर्थन दिया एवं कड़ी शब्दों में सरकार की नीतियों का निंदा करते हुए विरोध किए।इनके समर्थन में जनपद सदस्य टिकेश्वर चंद्रा, कला बीएल चंद्रा ,अरुण महिलांगे एवं युवा नेता विजेंद्र पाल शतरंज , बसंत खांड़े, फागू लाल, फेकू राम बर्मन,घसिया बंजारे, क्षेत्रभर के दिव्यांग, वृद्ध जन , विधवा, परित्यक्त, पेंशन धारी इत्यादि लोग  धरना प्रदर्शन में शामिल हुए।