breaking news New

एक तरफ प्रदेश सरकार गर्भवती महिलाओं के सुरक्षित प्रसव को लेकर कई योजनाएं चला रही है तो वहीं जिम्मेदार इन योजनाओं में पलीता लगाते नजर आ रहे हैं.....

एक तरफ प्रदेश सरकार गर्भवती महिलाओं के सुरक्षित प्रसव को लेकर कई योजनाएं चला रही है तो वहीं जिम्मेदार इन योजनाओं में पलीता लगाते नजर आ रहे हैं.....


कोरिया, 20 मार्च। कोरिया जिले के केल्हारी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के अंतर्गत आने वाली ग्रामपंचायत डिहुली के आश्रित ग्राम चनवारीडॉड़ में महतारी एक्सप्रेस के चालकों द्वारा अवैध वसूली का मामला सामने आया है,जहां चालकों द्वारा गर्भवती महिलाओं को अस्पताल पहुचाने और घर तक वापस छोड़ने के नाम पर पंद्रह सौ से एक हजार की वसूली की जाती है 102 के चालक  खराब सड़क का हवाला देकर इस गाँव मे आने से इंकार कर देते है इतना ही नही 102 के  बेखौफ चालक  गांव के मितानिन और ग्राम स्वास्थ्य समिति अध्यक्ष से भी वसूली करने से भी बाज नही आये जिसकी शिकायत ग्राम स्वास्थ्य समिति अध्यक्ष ने खंड चिकित्सा अधिकारी से की थी इसके बावजूद किसी पर कोई कार्यवाही नही की गई वही शिकायत से नाराज 102 के चालक ने घर पहुचाने ने बजाय नवजात और उसकी माँ को आधे रास्ते छोड़ कर फरार हो गए ।


एक और शासन गर्भवती महिलाओं को निशुल्क वाहन सुविधा मुहैया करा  करा रही है वहीं दूसरी ओर शासन की योजनाओं पर वाहन चालक पानी फिर से नजर आ रहे हैं वाहन चालकों की मनमानी की वजह से प्रसव अस्पताल में ना होकर घर पर हो रहा है जिसका खामियाजा गर्भवती महिला और उसके नवजात शिशु को भुगतना पड़ रहा है वहीं इस मामले में खंड चिकित्सा अधिकारी केल्हारी ने विभाग नहीं होने का हवाला देकर मामले से पल्ला झाड़ लिया

वहीं इस मामले में मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने  त्वरित कार्यवाही करते हुए 102 बाहरी को नोटिस भेजा है और मामले में कार्यवाही का आश्वासन दिया है

 शासन  एक ओर निशुल्क महतारी एक्सप्रेस जैसी योजना चलाकर गर्भवती महिलाओं को सुविधा देने की कवायद कर रही है वहीं दूसरी ओर महतारी वाहन चालक शासन के मंसूबों पर पानी फेरते नजर आ रहे हैं  बहरहाल मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने मामले में कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है लेकिन अब देखना होगा कार्यवाही होती है या 102  वाहन चालकों का की मनमानी  जारी रहेगा।