breaking news New

दुःखद : किसान ने की आत्महत्या, कर्ज के दबाव से परेशान था, भाजपा ने बनाया जांच दल, किसान नेता गौरी शंकर श्रीवास शामिल, कल जांच करने जायेगा दल

दुःखद : किसान ने की आत्महत्या, कर्ज के दबाव से परेशान था, भाजपा ने बनाया जांच दल, किसान नेता गौरी शंकर श्रीवास शामिल, कल जांच करने जायेगा दल

रायपुर. जिले में आज फिर एक किसान ने आत्महत्या कर ली. आमदी गांव के किसान रामनारायण निषाद ने कर्ज से तंग आकर अपना जीवन समाप्त कर लिया. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

सूत्रों के मुताबिक गांव की हमीदा ने बताया कि रामनिषाद पर 5 लाख से ज्यादा का कर्जा लद गया था. उसी चिंता में वह बीमार रहता था. उसने अपना खेत भी बेच दिया था. लेकिन बैंक उसे तकादा कर रहे थे इसलिए शुक्रवार को पैसा पटाने आया तो उदास था और किसी से बात भी नही कर रहा था. उसी दिन शाम को उसने जहर पी लिया. पत्नी शाम को जब खेत से घर लौटी तो उसने पति को मृत पाया. आत्महत्या का कारण कर्ज से परेशान होकर आत्महत्या करना सामने आया है.

भाजपा का आरोप है कि आर्थिक तंग के चलते किसान ने आत्महत्या की है. भाजपा ने इसकी जांच के लिए तीन सदस्यी जांच दल बनाया है. भाजपा ने चंद्रशेखर साहू की अध्यक्षता मे तीन सदस्यीय जांच दल का गठन किया जिसमें भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष गौरीशंकर श्रीवास और जिलाध्यक्ष ग्रामीण बाबी कश्यप कल तीन बजे मृतक किसान के गांव का दौरा करेंगे.

भाजपा किसान नेता गौरी शंकर श्रीवास ने कहा कि यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है. एक तरफ किसान आत्महत्या कर रहे हैं और दूसरी ओर राज्य सरकार अपनी योजनाओं के थोथे गुण गा रही है. भाजपा दल कल गांव में जाकर जांच करेगा और अपनी रिपोर्ट सौंपेगा.