breaking news New

कृषि मंडियों को कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए विधायक ने धान खरीदी शुरू करने की मांग की

 कृषि मंडियों को कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए विधायक ने धान खरीदी शुरू करने की मांग की

धमतरी-अंचल में अब किसानों का रबी फसल पक कर तैयार है, और अब किसानों के सामने लॉकडाउन जैसी विषम परिस्थिति में अपनी फसल बेचने की समस्या उत्पन्न हो गई है। ज्ञात हो कि शासन द्वारा क्षेत्र में नहर सिंचाई के माध्यम से पानी दिया गया था, जो फसल अब कटाई के बाद बेचने के लिए तैयार है, परंतु आज परिस्थिति विपरीत है। शासन द्वारा कोरोना महामारी के कारण लॉकडाउन लगने से कृषि मंडी बंद होने से उपज बेचने की समस्या उत्पन्न हो गई है।

मौजूदा लाॅकडाउन में कृषि उपज मंडी को भी बंद रखा गया है, उक्त समस्या को विभिन्न किसानों  के द्वारा क्षेत्र की विधायक रंजना डीपेंद्र साहू के समक्ष रखी, जिस पर विधायक श्रीमती साहू ने शासन प्रशासन को पत्र के माध्यम से अवगत कराते हुए कहा कि अन्नदाता हमारे किसान, धरतीपुत्र जिनके भरोसे हम सब जीवित रहते हैं, तो हम ऐसे अन्नदाताओं का अनाज धान जो पक कर तैयार हो गया है, कृषि उपज मंडी बंद होने के कारण लाकडाउन में कोरोना वैश्विक महामारी के चलते ओने पौने दाम पर अन्यत्र स्थानों पर बेचने को मजबूर हो रहे हैं, जिससे उनको वास्तविक लागत नहीं मिल पा रही है।

लाकडाउन के कारण किसानों को धान बेचने की समस्या उत्पन्न हो गई है, शासन द्वारा जारी कोरोना गाइडलाइन के अनुसार कृषि उपज मंडी में भी किसानों को धान खरीदी अति शीघ्र प्रारंभ किया जाए, जिससे रबी फसल के धान को कृषक उचित मूल्य पर बेंच सकें।

क्योंकि अभी लागातार माह भर से ज्यादा समय से लाकडाउन में किसानों के द्वारा  कृषि कार्य करने में एवं परिवार का भरण पोषण करने में भी विभिन्न समस्याओं का सामना करना पड़ा है और जब उपज के उचित मूल्य मिलने के समय में कृषि उपज मंडी जो किसानों का धान बेचने का एक स्थान है, उस जगह को बंद कर देने से किसानों के सामने धान बेचने की समस्या उत्पन्न हो गई है। इसलिए अति शीघ्र कोरोना गाइडलाइन का पालन के अनुसार कृषि उपज मंडी को खोला जाए।