breaking news New

श्री राम ने एक आदर्श पुत्र, पति और राजा के रूप में स्वयं को प्रस्तुत ही नहीं सिद्ध करके दिखाया - तिवारी

श्री राम ने एक आदर्श पुत्र, पति और राजा के रूप में स्वयं को प्रस्तुत ही नहीं सिद्ध करके दिखाया - तिवारी


ग्राम मटका में रामकथा मानस गान प्रतियोगिता में किसान नेता योगेश तिवारी बतौर मुख्य अतिथि रहे उपस्थित  

बेमेतरा, 6 फरवरी।  समीपस्थ ग्राम मटका में रामकथा मानस गान प्रतियोगिता में किसान नेता योगेश तिवारी बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित रहे । इस दौरान आयोजन समिति आदर्श सत्संग समाज मटका ने अतिथियों का फूल माला पहनाकर स्वागत किया । इस दौरान किसान नेता ने ग्रामीणों को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस तरह के आयोजन से लोगों में धर्म के प्रति आस्था बढ़ती है । रामायण हिन्दू स्मृति का बहुत ही कीमती अंग हैं । जिसके माध्यम से रघुवंश के राजाराम की गाथा कही गयी।  श्रीराम ने अपने को मर्यादा पुरूषोत्तम के रूप में आदर्श मानव का साकार स्वरूप प्रस्तुत किया है। यह असंभव से असंभव परिस्थिति में मानव जीवन को उच्च स्तर पर पहुंचाने में सक्षम प्रमाणित हुआ है। वे एक आदर्श पुत्र, शिष्य, पति, नेता, मित्र, राजनयिक, योद्धा और राजा के रूप में स्वयं को प्रस्तुत ही नहीं सिद्ध करके दिखाया ।


एक शत्रु के रूप में भी उनमें आदर्श एवं दयालु भाव ही दिखाई देता है। वे इतना विनम्र हैं कि अपनी विजय का श्रेय स्वयं न लेकर अपनी सेना को दिया । हम सभी को भगवान श्री राम के बताए मार्गों पर चलकर मानव जीवन को साकार करना चाहिए । इस दौरान सरपंच रोशन ध्रुव, अशोक मिश्रा, मेहतरु ध्रुव, दिनेश यादव, भूपेंद्र ध्रुव, मनीष साहू गणेश साहू, मनहरण ध्रुव, अनिल यदु, महेश यदु, माखन निषाद आदि उपस्थित थे ।