breaking news New

किसानों पर दमन करने के लिए एनआईए का ‘दुरुपयोग‘ करना गलत

किसानों पर दमन करने के लिए एनआईए का ‘दुरुपयोग‘ करना गलत

चंडीगढ़।  शिरोमणि अकाली दल (शिअद) ने आज कहा कि किसानों का दमन करने के लिए राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) का दुरुपयोग करना गलत है।

पार्टी की कोर कमेटी की बैठक के बाद मीडिया से बातचीत में हरचरण सिंह बैंस ने कहा कि पार्टी ने इसीके साथ केंद्र सरकार से कहा है कि वह 26 जनवरी को किसानों को दिल्ली में गणतंत्र मार्च में शांतिपूर्ण परेड करने के सवैंधानिक अधिकार से इंकार न करे।

उन्होंने कहा कि सरकार देश के नागरिकों को स्वतंत्र अभिव्यक्ति के अपने मौलिक अधिकार से इंकार नहीं कर सकती। देश के किसान पहले ही घोषणा कर चुके हैं कि उनका शांतिपूर्ण मार्च संविधान की भावना को दर्शाएगा जिसके लिए राष्ट्र गणतंत्र दिवस मनाता है। मीटिंग में पारित एक प्रस्ताव में कहा गया है कि सरकार को वास्तव में किसानों का धन्यवाद कर परेड को सुगम बनाना चाहिए।

श्री बैंस ने कहा कि पार्टी की कोर कमेटी ने कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों व उनके समर्थकों के खिलाफ एनआई के ‘दुरुपयोग‘ के लिए भी घोर निंदा की है। उन्होंने कहा कि यह निंदनीय है क्योंकि किसानों ने दो महीने से शांति तथा कानून व्यवस्था का उल्लंघन करने की शिकायत का एक भी बहाना नहीं दिया है। पार्टी के अनुसार यह वास्तव में दुर्भाग्यपूर्ण है कि सरकार ऐसे कानून का पालन करने वाले नागरिकों को शांति तथा सुरक्षा के लिए खतरे के रूप में देखती है।

पार्टी ने सरकार से एनआईए की तरफ से किसानों तथा किसान नेताओं को जारी किए सभी नोटिस वापिस लेने की मांग की।