breaking news New

दीपावली में नगर के आसपास बड़ी संख्या में चलता रहा जुआ सट्टा का खेल, 52 परी के खेल में भी लग रहे लाखो के दांव

दीपावली में नगर के आसपास बड़ी संख्या में चलता रहा जुआ सट्टा का खेल, 52 परी के खेल में भी लग रहे लाखो के दांव

दंतेवाड़ा . दीपावली पर्व में   बड़ी संख्या में जुआ सट्टा खेला नगर के अलग-अलग जगहों पर राजभर लगते रहे बड़े-बड़े दावों  दीपावली में जुआ खेलना रिवाज नहीं बल्कि घरों को खोखला करने वाला कारोबार बन चुका है या नगर में ही नहीं गांव गांव में बड़े-बड़े दावों लग रहे हैं दौड़ लगाने वाले भी नगर के जाने-माने लोग हैं जो जुआ सट्टा खेलने अलग-अलग क्षेत्रों में जाकर बड़े-बड़े दावों लग रहे हैं

 लगभग एक किलोमीटर के दायरे में बड़ी संख्या में जुआरी सक्रिय है। इस बार नगर के जुआरी गैंग में दो गुट हो चुके हैं। और वह सभी अपने अलग-अलग गुट बनाकर जुआ व सट्टे का कारोबार कर रहे हैं। और यह अलग-अलग जगहों में अलग-अलग समय पर जुआ सट्टे का कारोबार चला रहे हैं। साथ ही लाखों के दांव लगाये जा रहे हैं। इस बार 52 पत्ती का खेल भी बड़ी संख्या में खेला रहा है। जिनमें लाखों के दांव लगाये जा रहे हैं। जानकारों की माने तो कि इस बार बड़ी सेटिंग की गई है। जिसके कारण जुआरी बेखौफ होकर जुआ सट्टा का कारोबार चला रहे हैं। साथ ही नगर के थाना क्षेत्र के लगभग एक किलोमीटर के दायरे में भी जुआ सट्टा बड़ी संख्या में खेला जा रहा है। और बड़ी संख्या में जुआरी सक्रिय है  लेकिन पुलिस इस पर कोई कार्रवाई नहीं कर पा रही है। इस बार युवा वर्ग का भी रुझान जुआ सट्टा खेलने पर है। जुआ व सट्टे के कारण कई परिवार विनाश के गर्त में डूब जाते हैं 

जब जुआ सट्टा को रोकने वाले युवा खिलने लगे तो इस पर कार्रवाई की जाए या बड़ा सवाल है हरानी की बात यह है कि दीपावली के अवसर पर भी सभी थानों में जुआ सट्टा के नाम पर खानापूर्ति कार्रवाई की गई और बड़े जुआरी बेखौफ होकर जुड़वा का आनंद उठाते रहे