breaking news New

असम का चुनावी दौरा बीच में छोड़ दिल्ली लौट रहे गृह मंत्री, कहा - जवानों की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी

असम का चुनावी दौरा बीच में छोड़ दिल्ली लौट रहे गृह मंत्री, कहा - जवानों की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी

रायपुर।  छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के साथ हुए मुठभेड़ के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आनन -फानन में असम का चुनावी दौरा बीच में छोड़ दिल्ली लौट रहे हैं, जहां पर वे हालात का जायजा लेंगे।
छत्तीसगढ़ में शनिवार को  नक्सल प्रभावित बीजापुर और सुकमा जिले में  नक्सलियों के साथ  मुठभेड़ में लगभग 25 जवान शहीद हो गए है वहीं 25 घायल और 8   के करीब जवान गंभीर है।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली वापस लौटने से पहले गुवाहाटी में नक्सली हमले को लेकर कहा कि सर्च ऑपरेशन जारी है। दोनों ही पक्ष हताहत हुए हैं। हमारे जवान शहीद हुए हैं। मैं उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। मैं उनके परिवार वालों को भरोसा दिलाता हूं कि जवानों की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी।

इसके अलावा, अमित शाह ने छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में सुरक्षाबलों के शहीद होने के बाद राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से रविवार को बात की और हालात का जायजा लिया।

शाह ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के महानिदेशक कुलदीप सिंह को स्थिति का जायजा लेने के लिए छत्तीसगढ़ जाने को कहा। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि गृह मंत्री ने बघेल से बात की और मुठभेड़ के बाद पैदा हुई स्थिति की जायजा लिया। इस संबंध में एक अन्य अधिकारी ने बताया कि ऐसा माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री ने गृह मंत्री को मुठभेड़ के बाद राज्य सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की जानकारी दी।

छत्तीसगढ़ में बीजापुर और सुकमा जिलों की सीमा के बीच एक जंगल में नक्सलियों के साथ शनिवार को हुई मुठभेड़ में 23 जवान अब तक शहीद हो चुके हैं। इससे पहले, अमित शाह ने ट्वीट किया था कि मैं छत्तीसगढ़ में माओवादियों से लड़ते हुए शहीद हुए हमारे वीर सुरक्षाकर्मियों के बलिदान को नमन करता हूं।

 राष्ट्र उनके शौर्य को कभी नहीं भूलेगा। मैं उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं। हम शांति और प्रगति के इन दुश्मनों (नक्सलियों) के खिलाफ अपनी लड़ाई जारी रखेंगे। घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।