breaking news New

संत किसी एक समाज के नहीं बल्कि पूरे मानव समाज के लिए होते है: मंत्री गुरू रूद्रकुमार

संत किसी एक समाज के नहीं बल्कि पूरे मानव समाज के लिए होते है: मंत्री गुरू रूद्रकुमार


लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं ग्रामोद्योग मंत्री नगपुरा में आयोजित गुरू घासीदास जयंती समारोह में हुए शामिल

रायपुर, 30 दिसंबर। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं ग्रामोद्योग मंत्री गुरू रूद्रकुमार 28 दिसम्बर को मुंगेली जिले के विकासखण्ड पथरिया के समीपस्थ ग्राम नगपुरा में आयोजित बाबा गुरू घासीदास जी की जयंती कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने आस्था और श्रद्धा के प्रतीत जैतखाम की पूजा-अर्चना कर प्रदेश की सुख-शांति एवं समृद्धि की कामना की। इसके पूर्व समाज के लोगों ने मंत्री गुरू रूद्रकुमार का बाजे-गाजे के साथ भव्य और ऐतिहासिक स्वागत किया। 


बाबा गुरू घासीदास जयंती समारोह को संबोधित करते हुए मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने कहा कि संत किसी एक समाज के लिए नहीं बल्कि पूरे मानव समाज के लिए होते है। महान संत और समाज सुधारक बाबा गुरू घासीदास ने भी अपने उपदेशों में देश और दुनिया को मानवता का संदेश दिया, जो आज भी प्रासंगिक है। उन्होंने कहा कि बाबा ने अपने उपदेशों में समतामूलक समाज निर्माण की परिकल्पना की गई है। जिसे साकार करने के लिए हम सबको मिलकर काम करना होगा। मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने कहा कि सरकार का यह प्रयास रहेगा कि अनुसूचित जाति, जनजाति और पिछड़े वर्गों के बच्चों को शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ने का भरपूर अवसर मिले। उन्होंने कहा कि ज्ञान और शिक्षा ऐसा धन है जिसे कोई चोरी नहीं कर सकता, बल्कि इस धन को जितना बांटा जाए वह उतना ही बढ़ता है। उन्होंने युवा पीढ़ी से आव्हान किया कि वे खूब मन लगाकर पढ़ाई करें और अपने घर-परिवार, समाज, राज्य तथा देश की उन्नति में सहभागी बनें। समारोह में उन्होंने राज्य शासन द्वारा संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं के संबंध में जानकारी दी। 

इस अवसर पर वरिष्ठ नागरिक राजेन्द्र शुक्ला, जिला पंचायत सदस्य जागेश्वरी वर्मा, आंबलिका साहू, वसीउल्लाह खॉ, पथरिया जनपद पंचायत अध्यक्ष ग्वाल दास अनंत, सरगांव नगर पंचायत अध्यक्ष किट्टू तिवारी, पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष इंदिरा साहू, पूर्व जिला पंचायत सदस्य शशि घृतलहरें, ग्राम के सरपंच नेतराम साहू, सहित विनोद दिवाकर, निर्मल दिवाकर और बडी संख्या में ग्रामीण जन उपस्थित थे।