breaking news New

जिला पंचायत सदस्य रामू नेताम ने अमित जोगी व उनकी पत्नी के नामांकन फर्जी आदिवासी बताकर निरस्त किए जाने की घोर निंदा की

जिला पंचायत सदस्य रामू नेताम ने अमित जोगी व उनकी पत्नी के नामांकन फर्जी आदिवासी बताकर निरस्त किए जाने की घोर निंदा की

दंतेवाड़ा, 19 अक्टूबर। जिला पंचायत सदस्य रामू नेताम ने छत्तीसगढ़ कांग्रेस सरकार द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के पुत्र पूर्व विधायक अमित जोगी व उनकी पत्नी  ऋचा जोगी के नामांकन फर्जी आदिवासी बताकर निरस्त किए जाने को लेकर जिला पंचायत सदस्य रामू नेताम ने घोर निंदा की। 

जिला पंचायत सदस्य रामू नेताम ने बताया कि यह वही कांग्रेस पार्टी है जिनकी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने वर्ष 2000 में अजीत जोगी को आदिवासी नेता बताते हुए छत्तीसगढ़ को आदिवासी मुख्यमंत्री रूप में दिया था जब तक स्वर्गीय अजीत जोगी जीवित थे तब तक वह ओर उनका परिवार आदिवासी कोटे से विधायक सांसद बनते रहे हैं। 

तब तक यही कांग्रेस पार्टी उनका कोई विरोध नहीं करती थी आज वही कांग्रेस पार्टी उन्हें फर्जी आदिवासी बता रही है और उसके पुत्र व वधु का नामांकन निरस्त कर दिया गया है कांग्रेस की सरकार केवल आदिवासी नेताओं को इस्तेमाल करना जानती है। 

वहीं दूसरी ओर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी जहां राम वन गमन पंथ के रूप में तीर्थ से स्थान बना रहे हैं। मां कौशल्या के मंदिर को सजाया संवारा जा रहा है वहीं उनके पिता छत्तीसगढ़ के भांजा हिंदुओं की आराध्य देव रामचंद्र जी का पुतला बनाकर रावण की जगह दहन करने की बात करते हैं जो कि संपूर्ण हिंदू समाज के लिए घोर निंदनीय है मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी को नंदकुमार बघेल के ऊपर सख्त से सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। व उन्हें धर्म के ऊपर विवादित टिप्पणी करने से बचने की सलाह देना चाहिए।