breaking news New

विभागीय योजनांतर्गत स्वीकृत कार्यों की प्रगति पर जिला पंचायत सीईओ ने की समीक्षा

विभागीय योजनांतर्गत स्वीकृत कार्यों की प्रगति पर जिला पंचायत सीईओ ने की समीक्षा


प्रगति पर जनपदवार समीक्षा कर सीइओ जिला पंचायत ने दिए आवश्यक निर्देश

बैकुण्ठपुर, 16 मार्च। जिला पंचायत कार्यालय के मंथन कक्ष में सीइओ जिला पंचायत कुणाल दुदावत ने पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की सभी योजनाओं पर प्रगति की जनपदवार समीक्षा कर संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। समीक्षा बैठक में उपस्थित सभी जनपद पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारियों और अन्य विभाग प्रमुखों से योजनांतर्गत स्वीकृत कार्यों को पूर्ण कराए जाने के संबंध में जानकारी लेते हुए उन्होने कहा कि योजनाओं के तहत स्वीकृत कार्य तभी लाभप्रद होंगे जब उन्हे समय-सीमा में पूर्ण कराया जाए। 

बैठक में सबसे पहले उन्होने गोधन न्याय योजना के प्रगति पर जानकारी ली। सीइओ जिला पंचायत ने गोधन न्याय योजना के तहत आने वाले सारे गोबर को जल्द से जल्द वर्मी कंपोस्ट बनाने के लिए समूह को प्रदान करने को कहा। साथ ही कृषि सहित अन्य विभागों से समन्वय स्थापित कर बने हुए वर्मी कंपोस्ट कोे विक्रय करने पर बल देते हुए उन्होने कहा कि गौठानों के स्वावलंबन तभी पूर्ण होंगे जब बनी हुई खाद को समन्वय कर विक्रय कराया जाए। उनहोने कहा कि महिलाओं के समूह सक्षम तभी होंगे जब उनके बनाए हुए वर्मी खाद की लाभांष राषि उनके खातों में पहुंचने लगेगी। जिला पंचायत सीइओ कुणाल दुदावत ने गौठानों में निर्माणाधीन षेड को आगामी 15 दिवस में अनिवार्य रूप से पूर्ण कराने के निर्देष दिए।     

सीइओ जिला पंचायत ने कहा कि केवल ऑनलाइन इंट्री हो चुके वर्मी खाद की मात्रा के आधार पर ही सहकारिता के माध्यम से यह खाद बेचने का कार्य किया जाएगा इसलिए सभी गौठानों की शत-प्रतिशत मैपिंग और सहकारी बैंक खातेां की इंट्री की व्यवस्था आगामी तीन दिनों में सुनिश्चित करें। सही समय पर टांकों के भराई, उन्हे खाली किए जाने और उत्पादित मात्रा को मानक जांच के बाद पैकेजिंग जैसे सभी बिंदुओं पर उन्होने विस्तार से समीक्षा करते हुए उन्होने बैठक में उपस्थित उप संचालक कृषि को आवष्यक दिषा-निर्देष दिए। महात्मा गांधी नरेगा के तहत चल रहे निर्माण कार्यों की समीक्षा करते हुए उन्होने नए ग्राम पंचायत भवनांे के निर्माण कार्य आगामी एक पखवाड़े में सभी कार्य अनिवार्य रूप से पूर्ण कराने के निर्देश दिए। साथ ही उन्होने निर्मित हो चुक भवनों के लोकार्पण जनप्रतिनिधियों के उपस्थिति में कराए जाने के निर्देष दिए। उन्होने तीसरे चरण के गौठानों के निर्माण कार्यों के साथ ही सभी चारागाहों को प्राथमिकता के आधार पर पूर्ण कराने के निर्देष दिए। 

जमीन विवाद संबंधी कारणों से रूके हुए कार्यों के लिए उन्होने जनपद पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारियों को क्षेत्र के संबंधित राजस्व अधिकारियों से चर्चा कर मामलों का त्वरित निराकरण कराने के लिए कहा। चारागाह निर्माण की प्रगति पर असंतोष व्यक्त करते हुए उन्होने कृषि विज्ञान केंद्र कोरिया से एक सप्ताह में सभी की प्रगति से अवगत कराने को कहा। योजनांतर्गत स्वीकृत प्रगतिरत आंगनबाड़ी भवन, वनधन विकास केंद्र, हाट बाजार संग्रहण केंद्र और ठोस एवं तरल अपषिष्ट प्रबंधन केंद्रों के निर्माण सहित सभी निर्माण कार्यों को समय-सीमा में पूरी गुणवत्ता के साथ पूर्ण करने के निर्देष दिए। महात्मा गांधी नरेगा के चयनित सभी समीक्षात्मक बिंदुओं पर श्री दुदावत ने विस्तार से समीक्षा करते हुए वित्तीय वर्ष 2019-20 के सभी कार्यों को आगामी पखवाड़े में पूर्ण कराने के लिए निर्देषित करते हुए दो वर्ष पूर्व स्वीकृत हुए सभी कार्यों की पूर्णता प्रमाण पत्र दस दिवस में आनलाइन इंट्री करने के निर्देष दिए। लेबर बजट पर समीक्षा करते हुए उन्होने वनाधिकार पत्रधारियों के 100 कार्यदिवस का निर्धारित लक्ष्य ज्यादा से ज्यादा परिवारों को पूर्ण कराने के निर्देष दिए। इसके अतिरिक्त उन्होने तय समय सीमा में मजदूरी भुगतान, कार्य पूर्णता, रिजेक्टेड ट्रांजेक्षन सहित अन्य सभी बिंदुओं पर तय मानक के अनुरूप कार्य करने के लिए कहा। स्वच्छ भारत मिषन की समीक्षा करते हुए उन्होने सामुदायिक स्थलों पर, पर्यटन स्थलों पर बनने वाले और विषेषकर हाईवे पर बनने वाले सभी सामुदायिक षौचालयों को सर्वोच्च प्राथमिकता से पूर्ण कराने के निर्देष दिए। छूटे हुए परिवारों के लिए शौचालय निर्माण कार्य की प्रगति की समीक्षा करते हुए जिला पंचायत सीइओ ने सभी ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन के सेंटर और दिव्यांगों के सहूलियत के लिए बनने वाले शौचालयों का निर्माण जल्द पूरा करने के निर्देश दिए।बेसलाइन सर्वे कार्य के लिए समय सीमा तय होने के कारण उन्होने सर्वे का कार्य एक सप्ताह में पूर्ण कराने के निर्देष दिए। 

      इसके बाद उनहोने प्रधानमंत्री आवास योजना की जनपद वार समीक्षा करते हुए कहा कि गत माह 1723 हितग्राहियों को उनके कार्य के लिए राषि प्रदान की गई है। एैसे में सभी से व्यक्तिगत संपर्क कर तेजी से कार्य पूर्ण कराने के निर्देश दिए। प्रधानमंत्री आवास योजना के ब्लाक स्तरीय अधिकारियों को सजगता से काम करने के निर्देष देते हुए उनहोने कहा कि सभी हितग्राहियों से व्यक्तिगत संपर्क करने के साथ ही कार्य पूर्णता पर विषेष ध्यान दें।  जियों टेगिंग के अलावा उन्होने द्वितीय और तृतीय किश्त पाकर निर्माण न करने वालों को भी कारण बताओ सूचना पत्र जारी करने के निर्देष दिए।  जिला पंचायत सीइओ ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन की समीक्षा करते हुए समय सीमा में समूहों के खाते खोले जाने और उन्हे आवष्यक सहायता प्रदान करने के लिए निरंतर बैंकों से समन्वय करने के निर्देश दिए। समूहों के सही दस्तावेज संधारण के साथ ही उनहोने प्रदान की जा रही राशि और समूह की गतिविधियों की विस्तार से समीक्षा करते हुए कहा कि जब तक समूह की हर एक महिला 5 से 6 हजार रूपए मासिक कमाने के लायक नहीं हो जाती है तब तक आप सभी उस समूह को निरंतर प्रोत्साहित कर आवष्यक सहयोग करते रहें। महात्मा गांधी नरेगा के तहत व्यक्तिगत हितग्राहियों के लिए स्वीकृत रोजगारमूलक निर्माण कार्यों में तेजी लाने के निर्देष देते हुए उन्होने कहा कि समूह के सभी लेनदेन बैंक सखी के माध्यम से कराए जांए ताकि उनकी मासिक आय ज्यादा से ज्यादा सुनिष्चित हो सके। श्री दुदावत ने मनरेगा के 100 दिवस पूर्ण करने वाले हितग्राहियों को उन्नति प्रोजेक्ट के तहत काउंसलिंग कर स्वरोजगार संबंधी प्रषिक्षण में तेजी लाने के निर्देश दिए। 

         पंचायत विभाग की योजनाओं की समीक्षा करते हुए जिला पंचायत सीइओ ने ग्राम पंचायतों में होने वाले जन्म-मृत्यु पंजीकरण पर विशेष ध्यान देने को कहा। उन्होंने कहा कि कतिपय स्थानों पर अभी भी आनलाइन पंजीकरण नहीं किया जा रहा है, इसे पूरी तरह से आनलाइन किया जाना है। उन्होने ग्राम पंचायत व जनपद स्तर पर होने वाली सभी योजनाओं की आनलाइन इंट्री और 14 वें वित्त सहित अन्य राशियों के सही खर्च व उसके आनलाइन भुगतान की जानकारी अद्यतन करने के निर्देष दिए। विभागीय आडिट, लेखा परीक्षण, पंद्रहवे वित्त योजना के निर्माण सहित सभी विषयों पर प्रगति लाने के निर्देष दिए। उन्होने जनपद पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारियों को ग्राम पंचायत द्वारा की जाने वाली कर वसूली और आरसीसी प्रकरणों की समीक्षा कर आवष्यक कार्यवाही के निर्देष दिए। इसके अतिरिक्त सीइओ ने मुख्यमंत्री समग्र योजना सहित अन्य लंबित कार्यों की समीक्षा कर उन्हे जल्द पूर्ण कराने के निर्देष दिए। इस बैठक में कार्यपालन अभियंता और अनुविभागीय अधिकारी ग्रामीण यांत्रिकी सेवा, सभी सहायक परियोजना अधिकारी जिला पंचायत, केवीके, मत्स्य विभाग, अक्षय उर्जा विभाग सहित कार्यक्रम अधिकारी मनरेगा, प्रधानमंत्री आवास योजना, जिला मिषन प्रबंधन बिहान के सभी अधिकारी व ब्लाक स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।