breaking news New

अपराधियों के हौसले बुलंद, मछली मारने वाली जाली में लगा दी आग , मामला को रफा-दफा करने की फिराक में पुलिस

अपराधियों के हौसले बुलंद, मछली मारने वाली जाली में लगा दी आग , मामला को रफा-दफा करने की फिराक में पुलिस

सक्ती।   वार्ड क्र.03 के निवासी कार्तिक ढ़ीमर पिता घसिया राम मत्स्य आखेट का कार्य करता है।  जिसके निवास गृह के पास मछली मारने वाली नाॅयलोन रस्सी से बनी जाली दस नग रखी हुई थी जिसकी कीमत  करीबन 1,20,000/- एक लाख बीस हजार रूपये की थी।  जिसे आपसी रंजीश के कारण मध्यरात्रि को आरोपी द्वारा आग लगाकर गरीब की जीवन बसर हेतु एकमात्र साधन को जला दिया।  

जानकारी के अनुसार कार्तिक ढ़ीमर रात्रि समय अपने पड़ोस में भजन कीर्तन  के कार्यक्रम में गया हुआ था रात्रि करीबन 12 बजे अपने घर से वापस आ रहा था घर के पास पहुंचा ही था कि देखा वार्ड नं 01 निवासी कमलेश टंडन पिता रामानंद टंडन के द्वारा घर के सामने रखे हुए मछली मारने वाली जाली में पेट्रोल डालकर आग लगाकर सफेद रंग की स्कुटी से भाग रहे है।   जिसे मुख्य रोड तक दौड़ाते हुए पकड़ने की कोशिश किया। 

सुबह कार्तिक ढ़ीमर द्वारा पुलिस थाना सक्ती में दी गई प्रार्थी द्वारा लिखित आवेदन देकर नामजद रिपोर्ट दर्ज करने हेतु आवेदन की गई परन्तु सक्ती पुलिस द्वारा घटना को नजरअंदाज करतें हुए केवल आगजनी का मामला दर्ज कर खानापूर्ति कर दी गई है।  वही इस कांग्रेस के शासनकाल में गरीबो की सुनवाई हेतु न तो नगरीय प्रशासन सुध ले रही है और न ही पुलिस प्रशासन द्वारा कोई पहल की जाती है वही इन अपराधिक प्रवृत्ति के लोगो को स्थानीय नेताओ का संरक्षण प्राप्त है।  जिससे इनके हौसले बुलंद है आम जनता तो बस न्याय पाने की आश देखती रह जाती है एवं अन्याय करने वाले तथा अपराधिक प्रवृत्ति के लोगो का मनोबल इन दिनो नगर में बहुत ही बढ़ा हुआ है न तो उन्हे शासन का भय है और न ही पुलिस प्रशासन का ।