breaking news New

जूनियर डॉक्टरो की मांग को जल्द पूरा किया जाए- तरुणा बेदरकर

जूनियर डॉक्टरो की मांग को जल्द पूरा किया जाए- तरुणा बेदरकर


रेमडेशिविर इंजेक्शन की कालाबाज़ारी में रोक लगाए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

बस्तर 18 अप्रैल।  छत्तीसगढ़ में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के मामले ने स्वास्थ्य व्यवस्था को गंभीर संकट में डाल रखा है लॉक डाऊन के बाउजूद संक्रमण की गति कम नही हो रही है हर दिन कोरोना एक नए रिकॉर्ड बना रहा है जिस पर जिला अध्यक्ष तरुणा बेदरकर कहा है कि कोरोना से लोग त्राहि त्राहि कर रहे है पीड़ित व परिजन अत्यधिक परेशान है इस गंभीर बीमारी से जूझ रहे पेशेंट को इंजेक्शन नही मिल पा रहा है बाउजूद इसके नेताओं द्वारा इसकी वास्तविकता को नजरअंदाज कर कुछ भी बयान दिया जा रहा है जो महामारी के इस दौर में कोरोना से पीड़ित परिवार या जिसने इस दौरान अपनो को खोया है उनके जख्मो में नमक लगाने जैसा है मुख्यमंत्री जी इंजेक्शन की आपूर्ति के लिए आवश्यक से आवश्यक कदम उठाए।

हम समझ सकते है कि स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों के ऊपर काम का अत्यधिक दबाव है इस महामारी में वे किस स्थिति परिस्थितियों में अपना काम कर रहे है ये वही जान रहे है एक बार मेरा मुख्यमंत्री जी से निवेदन है कि वे इस संकट काल मे उनका हौसला बढ़ाने व वास्तविकता जानने एक बार रायपुर मेकाहारा में जाकर देखे हो सकता है इसके बाद वे अपनी कार्यशैली में बदलाव कर इस महामारी से लड़ने के लिए कारगर उपाय व पर्याप्त व्यवस्था का इंजाम कर सके।

उन्होंने आगे कहा की महामारी के इस दौर में हम सरकार के साथ खड़े है लेकिन जिस तरह से जनता त्राहिमाम् कर रही है उसके हिसाब से सरकार गंभीर नजर नही आ रही है जूनियर डॉक्टर हाथ मे काली पट्टी बांधकर अपना काम कर रहे है लेकिन वे सभी सरकार की कार्यशैली का विरोध कर रहे है जिस पर आपने चश्मा लगाकर दबाव में काम तो करवा रहे है लेकिन उनके दर्द से भी उनके जरूरतों से भी आपको वाकिफ होना चाहिये।

 वे अपनी बेहतर सेवा देने को तैयार है बस उनकी कुछ मांगे है जिसे सरकार को सुनकर उन्हें सुरक्षा हेतु आवश्यक वस्तुओं की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करना सरकार की जिम्मेदारी है ।अभी वे ही भगवान की तरह कोरोना पीड़ितों की देखभाल कर रहे है उनके मांगो पर सरकार को बिना देरी के निर्णय लेने चाहिए।