सिर्फ लॉकडाउन से कोरोना वायरस को खत्म नहीं किया जा सकता : माइक रेयान

सिर्फ लॉकडाउन से कोरोना  वायरस को खत्म नहीं किया जा सकता : माइक रेयान


नईदिल्ली।  विश्व स्वास्थ्य संगठन  ने कहा है कि कोरोना वायरस महामारी को रोकने के लिए भारत लगातार आक्रामक होकर काम करे.  इमरजेंसी हेल्थ प्रोग्राम के एग्जेक्यूटिव डायरेक्टर माइक रेयान ने स्विटजरलैंड के जेनेवा में 23 मार्च को प्रेस कांफ्रेंस में भारत को लेकर सीधे बात की. इससे पहले रेयान ने दुनिया भर में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण पर कहा था कि सिर्फ लॉकडाउन से इस वायरस को खत्म नहीं किया जा सकता. 


माइक रेयान ने कहा- 'भारत चीन की तरह काफी बड़ा और घनी आबादी वाला देश है. इस महामारी (कोरोना वायरस) का भविष्य काफी हद तक इस बात पर निर्भर करेगा कि काफी बड़े क्षेत्रफल और बेहद घनी आबादी वाले देश में क्या होता है.'


उन्होंने कहा कि यह बहुत अधिक जरूरी है कि भारत लगातार आक्रामक होकर कार्रवाई करे. भारत सार्वजनिक स्वास्थ्य और समाज के स्तर पर इस बीमारी को रोकने के लिए काम करे.


उन्होंने इस बात का भी उल्लेख किया कि भारत ने स्मॉल पॉक्स और पोलियो को मिटाने में दुनिया को रास्ता दिखाया और वैक्सीनेशन को लेकर काफी बड़ा काम किया. उन्होंने कहा  भारत के पास काफी अधिक क्षमता है. भारत जैसे देश नेतृत्व करें. दुनिया को रास्ता दिखाएं कि क्या किया जा सकता है और उन्होंने पहले किया है.


जानकारी के अनुसार दुनिया में संक्रमित लोगों की संख्या 3,82,000 से अधिक हो चुकी है. दुनिया में मौत का आंकड़ा 16,500 को पार कर गया है. सिर्फ अमेरिका में 46,370 से अधिक लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं. जबकि अमेरिका में 580 से अधिक लोगों की मौत भी हो गई है.


भारत में मंगलवार दोपहर तक देश में 523 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।  इसमें से 10 लोगों की मौत हो चुकी है। 

आज की जनधारा 

चंद्र शेखर अग्रवाल