breaking news New

सेना भर्ती रैली की तैयारियों की समीक्षा, बस्तर जिले के 15 हजार युवाओं को प्रशिक्षित करने का रखा लक्ष्य

सेना भर्ती रैली की तैयारियों की समीक्षा, बस्तर जिले के 15 हजार युवाओं को प्रशिक्षित करने का रखा लक्ष्य


जगदलपुर।  कलेक्टर  रजत बंसल ने जिला मुख्यालय जगदलपुर में जनवरी एवं फरवरी 2022 में आयोजित होने वाले थल सेना भर्ती रैली में शामिल होने के लिए बस्तर जिले के 15 हजार युवाओं को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य रखा। उन्होंने युवाओं का चयन सुनिश्चित कराने हेतु सभी तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर  बंसल आज नगर निगम के श्यामा प्रसाद मुखर्जी टाउन हाॅल जगदलपुर में शिक्षा एवं संबंधित विभागों की बैठक लेकर इस थल सेना भर्ती रैली को सफल बनाने हेतु की जा रही तैयारियों की विस्तृत समीक्षा की। 

बंसल ने जिले के सभी हायर सेकेण्डरी स्कूल के प्राचार्य को सेना भर्ती रैली में शामिल कराने के लिए प्रत्येक स्कूलों से अधिक से अधिक विद्यार्थियों का आवेदन प्राप्त करने के निर्देश दिए हैं। बैठक में जिला सैनिक कल्याण अधिकारी विंग कमांडर जेपी पात्रो, कमांडर संदीप, डिप्टी कलेक्टर  ओपी वर्मा, जिला शिक्षा अधिकारी भारती प्रधान उपस्थित थे।

बैठक में श्री बंसल ने सेना भर्ती रैली में शामिल होने वाले जिले के नव युवकों को शारीरिक एवं लिखित परीक्षा के लिए प्रशिक्षण की व्यवस्था सुनिश्चित कराने के सभी स्कूलों मंे नियमित प्रशिक्षण प्रदान करने के साथ ही प्रत्येक शनिवार को प्रत्येक विकासखण्ड में वृहद कार्यक्रम आयोजित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने प्राप्त आवेदनों के संबंध में  भी विकासखण्डवार जानकारी ली। इस दौरान बताया गया कि लगभग 7200 आवेदन प्राप्त हो चुके हैं।

कलेक्टर ने बस्तर जिले के 15 हजार युवाओं को सेना भर्ती रैली के लिए प्रशिक्षित करने के लिए विकासखण्डवार लक्ष्य दिया। उन्होंने कहा कि सेना भर्ती रैली के माध्यम से युवाओं के भविष्य को उज्जवल करने का यह सुनहरा अवसर प्राप्त हुआ है तथा इस कार्य को पूरी रुचि के साथ किए जाने की आवश्यकता है।

उन्होंने प्रति शनिवार को आयोजित कार्यक्रम में भर्ती हेतु आवश्यक दस्तावेजों की पूर्ति के लिए कार्य करने के निर्देश दिए। इन कार्यक्रमों में युवाओं के आवागमन के साथ ही सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश उन्होंने दिए।

उन्होंने सेना भर्ती रैली के लिए जागरुकता रैलियों के आयोजन के निर्देश भी दिए। अतिसंवेदनशील क्षेत्र के युवा भी इस भर्ती रैली में अधिक से अधिक संख्या मंे शामिल हो सकें, इसके लिए विशेष प्रयास किए जाने पर जोर दिया।

इस अवसर पर जिला सैनिक कल्याण अधिकारी विंग कमांडर  जेपी पात्रो ने सेना की सेवा को गौरवान्वित करने वाला बताया। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही सेना के बाद भी विभिन्न प्रकार की सुविधाएं प्रदान की जाती हैं, जिसे युवाओं के साथ ही अभिभावकों को भी बताना आवश्यक है। कमांडर  सतीश ने कहा कि बस्तर के अधिक से अधिक युवा इस भर्ती रैली में शामिल हों, इसके लिए आवश्यक है कि आवेदन हेतु सभी आवश्यक दस्तावेज उनके पास हो।

उन्होंने कहा कि भर्ती के लिए किसी भी प्रकार की शुल्क या राशि नहीं ली जा रही है। बैठक में सहायक परियोजना अधिकारी राजीव गांधी शिक्षा मिशन  अशोक पांडे सहित विकासखण्ड शिक्षा अधिकारियों एवं प्राचार्यों के अलावा सहायक विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी, खण्डस्त्रोत समन्वयक एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।