छ्ग शालेय शिक्षक संघ बीजापुर ने किया हड़ताली स्वास्थ्य कर्मचारियों का सर्मथन

छ्ग शालेय शिक्षक संघ बीजापुर ने किया हड़ताली  स्वास्थ्य कर्मचारियों का सर्मथन

बीजापुर, 26 सितंबर। छग शालेय शिक्षक संघ जिला ईकाई बीजापुर द्वारा एन एच एम के तहत कार्यरत संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों के नियमितीकरण का पूर्ण रूप से समर्थन किया है।स्वास्थय कर्मचारियों ने शिक्षक संघ को अवगत कराया कि पिछले 10-15 वर्षों से वे निरंतर सेवा देते आ रहे हैं इसके बावजूद उनकी माँगों को शासन -प्रशासन द्वारा नजर अंदाज किया जा रहा है जबकि  काँग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में उन्हें नियमित करने का वादा किया था। अब उनकी सरकार है। 25 सितंबर को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य कार्यालय में धरना दे रहे कर्मचारियों के बीच शालेय शिक्षक संघ जिला बीजापुर के सचिव कैलाश रामटेके के नेतृत्व मे एक प्रतिनिधि मंडल पहूंचकर उनकी माँगों का समर्थन किया है।हड़ताली स्वास्थय कर्मियो को अपने 23 वर्षों के  आंदोलन का अनुभव बांटा,अपने संघर्ष के दिनों को याद करते हुये श्री रामटेके  ने कहा कि संविदा शिक्षक से शिक्षा कर्मी फिर शिक्षा कर्मी से नियमित शिक्षक तक के सफर में कई बार निलंबित वा एक बार बर्खास्त हुये थे।आंदोलन में तभी सफलता मिलती है जब सब एक होकर संगठित रुप से लड़ाई लड़ें।संगठन ने शासन -प्रशासन से माँग  की है कि जल्द से जल्द स्वास्थय कर्मियों की माँगों को पूर्ण करे। प्रतिनिधि मंडल में शालेय शिक्षक संघ के ब्लाक अध्यक्ष विजय चापड़ी, सक्रिय सदस्य नरेश चौहान,संकुल प्रमुख यदुनाथ कश्यप उपस्थित थे।


छ्ग शालेय शिक्षक संघ बीजापुर के समर्थन पर एन एच एम संघ के जिलाघ्यक्ष रमाकाँत पूनेठा,उपाध्यक्ष योगेश भगत, सचिव डॉ.प्रशांत भोई,डा.अनिल साहू सहित सभी हड़ताली कर्मचारियों ने आभार व्यक्त किया है।