breaking news New

नए साल 2021 में महंगे हो जायेंगे एलईडी टीवी समेत कई अन्य होम अप्लाइंस

नए साल 2021 में महंगे हो जायेंगे एलईडी टीवी समेत कई अन्य होम अप्लाइंस

नईदिल्ली।  बस चंद दिनों में 2020 का अंत और  2021 की शुरुआत होगी।  ऐसे में कहा जा रहा है कि आने वाला नया वर्ष महंगाई के लिए ख़ास रहेगा। नए साल में  टीवी, वॉशिंग मशीन और फ्रिज जैसे कुछ होम अप्लाइंस महंगे हो सकते हैं. खास कर एलईडी टीवी इन दिनों भारत में पॉपुलर हो रहा है और ये भी महंगा हो जाएगा. 

जानकारों का कहना है कि  होम अप्लाइंस के प्रोडक्शन के लिए इस्तेमाल होने वाले मुख्य मेटेरियल, जैसे की कॉपर, एल्यूमिनियम और स्टील की कीमतें बढ़ेंगी. रिपोर्ट के मुताबिक इस वजह से इन होम अप्लाइंस की भी कीमतों में 10% तक की बढ़ोतरी दर्ज की जा सकती है.  

एलजी, पैनासॉनिक और थॉमसन जैसी कंपनियों के होम अप्लाइंस खास कर टीवी, फ्रिज और वॉशिंग मशीन पॉपुलर हैं. इन कंपनियों ने ये साफ कर दिया है कि जनवरी से कीमतों में बढ़ोतरी होगी. हालांकि सोनी ने अभी तक क्लियर नहीं किया है कि वो अपने होम अप्लाइंस कैटिगरी को महंगा करेगी या नहीं. 

Panasonic India CEO मनीष शर्मा ने कहा है कि जनवरी से कीमतें 6-7% बढ़ेंगी, लेकिन आने वाले समय में ये 10-11% तक बढ़ सकते हैं. उन्होंने भी कीमत बढ़ाए जाने के पीछे यही दलील दी है कि प्रोडक्शन में लगने वाले प्रोडक्ट्स की कीमतें बढ़ सकती हैं. 

एलजी की बात करें तो यहां भी 1 जनवरी से कीमतें 7 से 8 फीसदी तक बढ़ सकती हैं. ये कीमतें होम अप्लाइंस कैटिगरी में बढ़ेंगी. एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स इंडिया हेड ने भी कहा है कि कंपनी भारत में सभी प्रोडक्ट्स जैसे टीवी, वॉशिंग मशीन, रेफ्रिज्रेटर इत्यादि की कीमतें 7-8 फीसदी तक बढ़ा देगी. इसकी वजह रॉ मेटेरियल - कॉपर और एल्यूमिनियम महंगा होना है. क्रूड ऑयल की कीमतें भी यहां असर डाल सकती हैं. 

सोनी ने अब तक साफ नहीं किया है कि कंपनी अपने होम अप्लाइंस की कीमतें बढ़ाएगी या नहीं. लेकिन मार्केट को देखते हुए कंपनी अगले कुछ समय में ये क्लियर कर सकती है. 

भारत में मिड साइज स्क्रीन वाले एलईडी टीवी ज्यादा पॉपुलर हैं और इस सेग्मेंट की कीमतों में सबसे ज्यादा कीमतों की बढ़ोतरी दर्ज की जाएगी. सोनी इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर सुनील नायर ने कहा है कि अभी कंपनी मार्केट की स्थिति देख रही है फिर तय किया जाएगा कि कीमतें बढ़ेंगी या नहीं. हालांकि सोनी ने भी ये कहा है कि पैनल की कीमतें बढ़ रही हैं और दूसरे रॉ मेटेरियल का भी कॉस्ट बढ़ा है खास तौर पर टीवी का.