breaking news New

कलेक्टर द्वारा गठित टीम ने छापा मार कार्यवाही कर जंगलों से बड़े पैमाने पर जब्त किया कोयला, तस्कर भागने में सफल

कलेक्टर द्वारा गठित टीम ने छापा मार कार्यवाही कर जंगलों से बड़े पैमाने पर जब्त किया कोयला, तस्कर भागने में सफल


कोरिया !  जिले में कोयले के अवैध कार्य को रोकने के लिये कलेक्टर द्वारा गठित टीम ने छापा मार कार्यवाही कर जंगलों से बड़े पैमाने पर कोयला जब्त किया गया है टीम में खनिज विभाग ,वन विभाग, एसडीएम की टीम मिलकर छापामार कार्यवाही करने पहुंचे सूचना मिलते ही तस्कर भागने में सफल रहे।

वी ओ -कोरिया की धरती काले हीरे की संपदा से अपनी पहचान बना चुकी हैं जहां एक ओर कोयले से देश को राजस्व श्रोत प्राप्त है
वही कोरिया के जंगलों से अवैध रूप से कोयले का काला ब्यापार विगत कई वर्षों से धड़ल्ले से जारी है
कोरिया वनमण्डल के जंगल ग्राम मुरमा ग्राम पुटा व कटकोना व चिरमरी क्षेत्र में बडे पैमाने में कोयले का काला खेल मिलीभगत से चल रहा है।
कोयले के काले कारोबार से क्षेत्र में विभिन्न प्रकार की अवैध गतिविधिया पनप रही है धीरे धीरे अपराध बढ़ता जा रहा है लोगो मे भय ब्याप्त है

हम बात करे पटना क्षेत्र के जंगलों में हो रहे कारोबार की तो विगत कई बर्षों से कोयले का काला कारोबार सरपरस्ती में जारी है मुरमा देवखोल पुटा कटकोना के वन विभाग के जंगलों में तस्करो के द्वारा कालरी की तरह अवैध खदान संचालित करवाया जा रहा है इन जंगलों में गरीब मजदूरों को कम पैसे के लालच में जंगलों के खतरनाक गुफाओं में बिना सुरक्षा उपकरण कई किलोमीटर अंदर से कोयला खोदने के लिये भेज दिया जाता है और थोड़े पैसे में तस्कर इन्हें खरीद कर मोती रकम कमाते हैं सबसे बड़ी विडंबना यह कि गरीब टपके के नाबालिक बच्चों को भी इस कार्य मे धकेल दिया जा रहा है नाबालिग थोड़े से पैसे पाकर पढाई लिखाई छोड़ नशे की चपेट में आ रहे जिससे उनका समाज व परिवार बिगड़ रहा है
ग्राम पंचायत मुरमा के सरपंच ने अपने समाज व बच्चों के हित मे जंगल से अवैध कोयले उत्खनन को रोक लगाने के लिये शाशन प्रशासन को पत्र लिखकर मांग की थी


जिस पर कलेक्टर की संयुक्त टीम ने पुटा के जंगल मे दिन में छापेमारी कार्यवाही की सैकड़ों के संख्या में मजदूर व बाल श्रमिक कोयला खोदने का कार्य रहे थे टीम को देख लगभग 280 बोरी कोयला छोड़ कर भाग1 खड़े हुये मौके पर एसडीएम की निगरानी में खनिज विभाग ने लगभग 280 बोरी कोयला जब्ती करते हुये वन  विभाग को सौप दिये।
आपको बता दु पटना क्षेत्र में मुरमा देवखोल कटकोना पंडोपारा एरिया में देर शाम होने के बाद तस्करों की मंडी सजती है ।दिन भर कई जगज जंगलों में मजदूरों से कोयला खोड़वाते है रात 8 बजे से 4 बजे भोर तक ढुलाई करते हैं आप अंदाजा लगा लीजिये के इनके काले कारोबार को रोकने टोकने की किसी की हिम्मत नही खुलेआम क्षेत्र में दहसत बनाये हुये है । वन विभाग के जंगलों में कई कई बार अवैध खदान में दबकर मजदूरों की मौत हो चुकी है
वही पटना क्षेत्र में चलती कोयला गाड़ी से कोयला उतारने का करोबर भी किया जाता है जिसमे कोयला गाड़ी को चपेट में आने से भी मौत हो चुकी है वही कटकोना कालरी व पंडोपारा कालरी से रेलवे स्टेशन कटोरा में आने वाले कोयला को ट्रक डम्फर हाइवा से बीच रास्ते मे रोककर उतारा जा रहा है एसईसीएल का भारी नुकसान हो रहा है लेकिन सुध लेने वाला कोई नही ।
वही चरचा कालरी में एसईसीएल के कोयले का अवैध कारोबार जारी है विभागीय जिम्मेदार आँख मुद कर अपनी ड्यूटी पका रहे हैं चिरमिरी क्षेत्र की बात करे तो एसईसीएल व अवैध जंगल से भी काला करोबार जारी है ।इसी तरह जिले भर में कोयले के काले खेल से हांथ सने है गाढ़ी कमाई के बजह से हुक्मरान आंख बंद कर सो रहे हैं उन्हें दूरदर्शिता दिखाई नही दे रहा अगर इसी कदर काला खेल जारी रहा कोरिया अपराध जगत का गढ़ बन जायेगा आज भी कालरी क्षेत्र में विभिन्न प्रकार के आपराधिक घटनाए व नशा का कारोबार तेज पकड़ा है



जबकि कोरिया की धरती में पहली बार नवनिर्वाचित होकर आये नवीन मुख्यमंत्री भूपेश ने पत्रकारों के सवाल के जबाब में कहा था जहां भी ऐसी गतिविधिया पायी जायेंगी सम्बंधित अधिकारी जिम्मेदार होगा ।उनके इस आदेश को भी अधिकारी हल्के में लेकर धता बता दिये ।वही बैकुंठपुर विधायक ने भी अपने बयान में कोयला व अन्य अवैध कारोबार की कठोर निंदा कर चुकी है कार्यवाही की बात भी कह चुकी है।फिर भी यह काला कारोबार विगत कई वर्षों से घटने के बजाय सिर्फ बढ़ रहा पैर पसार रहा है ।सिस्टम पर सवाल खड़ा होता है आखिरकार बड़े पैमाने में चल रहे कारोबार पर काबू क्यों नही पाया जा रहा ।
सबसे पहली जिम्मेदारी वन विभाग की अपने जंगलों के प्रति बनती है लेकिन नदारद है 24 घण्टे जंगल की खनिज संपदा कोयले का उत्खनन हो रहा है वही जिले में खनिज विभाग व राजस्व विभाग के साथ पुलिस विभाग को मिलके नकेल कसना होगा
बाइट-1-ग्रेनी कुजूर
एसडीओ वन विभाग
बाइट-2-एस एस दुबे
एसडीएम
बाइट-3-अम्बिकासिहदेव
बैकुंठपुर विधायक
बाइट-4-उदय सिंह
सरपंच ग्राम मुरमा