breaking news New

भारतीय कोयला खदान मजदूर संघ रायगढ़ क्षेत्र में नर्स डे मनाया

भारतीय कोयला खदान मजदूर संघ रायगढ़ क्षेत्र में नर्स डे मनाया

कूड़ेकेला, 12 मई। कोविड19 महामारी के दौरान चिकित्सीय स्टाफ ने अपना सब कुछ दांव पर लगा दिया है और इनमें नर्स बेहद अहम भूमिका निभा रही हैं। नर्स एक मां, एक बहन के रूप में मरीजों की सेवा करती हैं। इस रिश्ते को बखूबी निभाने के कारण इन्हें सिस्टर का उपनाम दिया गया है। नर्स अपनी जान जोखिम में डालकर मरीजों का इलाज करती है। वह अपने घरों से दूर, परिवार से दूर रहकर दिन और रात अपनी ड्यूटी पूरी निष्ठा और ईमानदारी के साथ कर रही हैं। नर्सों को इस पेशे से जुड़ी खुशियों के साथ-साथ कई चुनौतियों का भी सामना करना पड़ता है।


छाल भारतीय कोयला खदान मजदूर संघ द्वारा आज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र छाल, उप स्वास्थ्य केंद्र बोजिया और छाल डिस्पेंसरी में जाकर नर्सों का सम्मान किया वही संघ के महामंत्री ननकी राम साहू ने अपने उद्बोधन में कहा कि नर्स कोविड-19 महामारी के इलाज मैं आपका अथक परिश्रम सराहनीय है सेवा और चिकित्सा के क्षेत्र में आपके अतुलनीय योगदान को भारतीय मजदूर संघ सलाम करता है। महामारी के दौरान अपने जीवन के बाजी लगाकर निस्वार्थ भाव से दे रहे सेवा को भारत कभी नहीं भूलेगा। कार्यक्रम के दौरान संगठन के अध्यक्ष बेनू प्रकाश गबेल जीने नर्स दिवस की सभी को शुभकामना दिए और छत्तीसगढ़ प्रदेश संघ के उपाध्यक्ष श्री भोला प्रसाद तिवारी, चंद्रशेखर सिंह, परमानंद, के.के. चंद्रा, राम भरोस, मोतीचंद्र पटेल, प्रवीण कस्तूरे, अविनाश सिंह उपस्थित रहे और भारतीय मजदूर संघ के सभी कार्यकर्ताओं ने नर्स बहनों का सम्मान किया गया और नर्स दिवस की सभी को बधाई दी।