breaking news New

मानसून की स्थिति से निपटने बालको ने की तैयारी

मानसून की स्थिति से निपटने बालको ने की तैयारी

बालकोनगर, 24 जून। वेदांता समूह की कंपनी भारत एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड (बालको) ने मानसून की स्थितियों से निपटने के लिए अपने स्मेल्टर और विद्युत संयंत्र में अनेक तैयारियां की हैं। कोरबा में अधिक वर्षा की स्थिति को देखते हुए 24 घंटे कार्यरत एक निगरानी व नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है। यह नियंत्रण कक्ष बांगो बांध के जल स्तर के विश्लेषण और भारतीय मौसम विभाग के डाटा के आधार पर अपनी योजना तैयार करता है। इसके साथ ही बालको के पास रियल टाइम डाटा विश्लेषण के लिए पर अत्याधुनिक डिजिटल नियंत्रण कक्ष मौजूद है जिससे त्वरित निर्णयन में मदद मिलती है।


बालको के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं निदेशक अभिजीत पति ने मानसून की तैयारियों पर कहा कि स्थानीय नागरिकों और पर्यावरण की सुरक्षा की दृष्टि से बालको ने अनेक महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। अत्याधुनिक तकनीकों के साथ ही नवाचार आधारित तकनीकों की मदद से बालको ने औद्योगिक स्वास्थ्य, सुरक्षा एवं पर्यावरण को प्रोत्साहित करते हुए व्यवसाय प्रचालन की निरंतरता को सुनिश्चित किया है। औद्योगिक सुरक्षा के प्रति कटिबद्धता बालको के विजन, कॉरपोरेट उद्देश्य और उत्पादन प्रक्रियाओं का अभिन्न अंग हैं।


बालको देश की उन कंपनियों में शामिल है जिसने अपनी प्रचालन प्रक्रियाओं में स्मार्ट तकनीकों को प्रोत्साहित किया है। विद्युत संयंत्रों के प्रचालन में स्मार्ट ऑटोमेशन को बढ़ावा देने और मानवीय हस्तक्षेप को कम करने की दिशा में रियल टाइम डिजिटल डैशबोर्ड और ट्रेंड मॉनिटरिंग प्रणाणियों से बड़ी मदद मिल रही है। डिजिटल डैशबोर्ड की मदद से पुराने डाटा और डिजिटलाइज्ड रिपोर्ट आसानी से मिल जाते हैं, डाउन टाइम में कमी आती है, बिना मानवीय हस्तक्षेप विश्लेषण और त्वरित निर्णय लेने में मदद मिलती है। 

किसी भी आपातकालीन परिस्थिति से निपटने के लिए 540 तथा 1200 मेगावॉट विद्युत संयंत्रों के कोल हैंडलिंग प्लांट के लिए सेंट्रलाइज्ड कंट्रोल रूम की स्थापना की गई है। विद्युत संयंत्र में एकीकृत कोल ट्रक प्रबंधन के साथ ही स्ट्रक्चर्ड कोल परिवहन निगरानी व नियंत्रण प्रणाली स्थापित है ताकि मानसून में भारी बारिश के दौरान कोयले के परिवहन को सुगम बनाया जा सके।