breaking news New

पाकिस्तान ने किया संघर्ष विराम का उल्लंघन, चार जवान शहीद, तीन नागरिकों की मौत

पाकिस्तान ने किया संघर्ष विराम का उल्लंघन, चार जवान शहीद, तीन नागरिकों की मौत

श्रीनगर।  पाकिस्तानी सैनिकों ने शुक्रवार को उत्तरी कश्मीर के कई क्षेत्रों में नियंत्रण रेखा के पास बिना किसी उकसावे के संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए भारी गोलाबारी की जिसमें सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के एक सब-इंस्पेक्टर समेत चार जवान शहीद हो गये और एक महिला सहित तीन नागरिकों की मौत हो गई एवं कई अन्य घायल हो गये।

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने यूनीवार्ता को बताया कि पाकिस्तानी सैनिकों ने आज दोपहर बाद बारामूला के उरी सेक्टर में नागरिक इलाकों को निशाना बनाकर गोलीबारी की और मोर्टार दागे।

उन्होंने बताया कि पाकिस्तानी सैनिकों की तरफ से की गई गोलीबारी में सेना के तीन जवान शहीद हो गये। उन्होंने बताया कि भारतीय जवानों ने पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया है और अंतिम रिपोर्ट मिलने तक गोलीबारी जारी थी।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि उरी में पाकिस्तान के गोलाबारी में एक महिला समेत तीन नागरिकों की भी मौत हो गई है। उन्होंने बताया कि इन नागरिकों में फारूका बेगम, ताहिर जलालुद्दीन और इरशाद अहमद शामिल हैं।

सूत्रों ने बताया कि इससे पहले पाकिस्तान की तरफ से की गई गोलीबारी में बीएसएफ सब-इंस्पेक्टर राकेश डोभाल शहीद हो गये। उन्होंने बताया कि मृतकों की संख्या अभी और बढ़ सकती है।

सूत्रों ने बताया कि बागटोरे में पाकिस्तान की गोलाबारी में दो नाबालिग लड़कियों समेत पांच लोग घायल हो गये।

उन्होंने बताया कि पाकिस्तानी सैनिकों ने जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के तंगधार सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास भी गोलीबारी की।

रक्षा मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने बताया कि भारतीय जवानों ने आज केरन सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास आतंकवादियों के घुसपैठ के प्रयास काे नाकाम कर दिया। उन्होंने बताया कि केरन सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास घुसपैठ का प्रयास और संघर्ष विराम का उल्लंघन एक साथ किया गया।

इससे पहले आठ नवंबर को कुपवाड़ा के माछिल सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास जवानों ने पाकिस्तान के घुसपैठ के प्रयास को विफल कर दिया लेकिन इसके बाद शुरू हुई मुठभेड़ में सेना के एक अधिकारी और दो अन्य जवान शहीद हो गये। इस दौरान तीन आतंकवादी भी मारे गये थे।

बीएसएफ के अतिरिक्त महानिदेशक (एडीजी) सुरेंद्र पंवार ने इस सप्ताह की शुरुआत में कहा था कि पाकिस्तानी सैनिक आतंकवादियों को कश्मीर में घुसपैठ कराने के उद्देश्य से संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रहे हैं।