breaking news New

महापौर ने बोला झूठ, जनता पर लादा यूज़र चार्ज , ग़रीबों के मुँह से छीना निवाला

महापौर ने बोला झूठ, जनता पर लादा यूज़र चार्ज , ग़रीबों के मुँह से छीना निवाला

यूज़र चार्ज लगाकर महापौर ने ग़रीबों के मुँह से निवाला छीना

गरीब, आम और ख़ास सभी परेशान, महापौर खुश

यूज़र चार्ज वापस नहीं हुवा तो भाजपा पार्षद दल करेगा आंदोलन

-संजय पाण्डेय नेता प्रतिपक्ष नगर निगम जगदलपुर 


जगदलपुर।  पार्षद दल भारतीय जनता पार्टी ने महापौर के झूठ और राज्य सरकार के वादा खिलाफी के ख़िलाफ़ आवाज़ बुलंद करने का फ़ैसला किया है !  महापौर ने अपने पहले और दूसरे बजट भाषण में और लिखित में भी कहा की जनता पर किसी भी प्रकार का कर में बढ़ोतरी नहीं किया गया है ,परंतु महापौर ने यूज़र चार्ज लगाकर ग़रीब और  आम नागरिकों के मुँह से उसका निवाला छीना है !ग़रीब,आम और ख़ास सभी नागरिकों के साथ धोखा हुआ है ,उसे गुमराह किया गया है !

इस संबंध में आज भाजपा पार्षद दल ने एक ज्ञापन मान विधायक  एवं संसदीय सचिव रेखचंद जैन और नगर निगम की मान महापौर श्रीमती सफीरा साहू को सौंपा !

महापौर के नाम लिखे ज्ञापन में कहा गया है कि आपने झूठी वाहवाही और मीडिया में प्रचार  पाने के लिए जनता से  झूठ बोला ! यूज़र चार्ज के रूप में अपने बहुमत की ताक़त और गुंडागर्दी दिखाकर जनता की जेब में डाका डाला है ! 


नेता प्रतिपक्ष संजय पाण्डेय ने बताया है कि राज्य सरकार ने 2017 में यूज़र चार्ज लगाना नोटिफाईड किया था परंतु पूर्व महापौर श्री जतिन जायसवाल ने इसे विपक्ष मे भाजपा पार्षद दल के दबाव और उनकी संख्या बल के कारण कभी भी इसे लागू करने का प्रयास नहीं किया ! वर्ष 2016-17, 2017-18,2018-19 और 2019-20 में किसी भी प्रकार का गजट नोटिफाईड होने के पश्चात भी यूज़र चार्ज टैक्स नहीं लगाया गया था ! परंतु वर्तमान महापौर के नेतृत्व में , जैसे ही इन्हें पार्षदों का बहुमत मिला ,मेयर इन काउंसिल की बैठक में यूज़र चार्ज लगाने का निर्णय लिया गया और इसे 2020-21 में लागू किया गया है, जो अत्यंत दुर्भाग्य जनक है !

ज्ञापन में कहा गया है कि राज्य सरकार भी वादा खिलाफी कर रही है , उन्होंने अपने घोषणा पत्र में कहा था कि वह संपत्तिकर न्यूनतम आधा करेंगे परंतु  सरकार के ढाईं वर्ष बीतने पर भी इसे अमल में नहीं लाया गया और उस वादे के ख़िलाफ़ महापौर ने यूज़र चार्ज लगाने का निर्णय लेकर जनता के साथ दोहरी मार किया है ! यूज़र चार्ज लगाने से आर्थिक रूप से ग़रीब तथा मध्यम वर्ग की जनता ठगा सा महसूस कर रही है ,उनके समक्ष कई आर्थिक समस्या खड़ी हो गई है ! उनका टैक्स 120 पर्सेंट से लेकर कई गुना तक बढ़ गया है ! जिन ग़रीब परिवार के यहाँ 300 रुपये का डिमांड नोट आता था अब वह 660रुपये आ रहा है ! संजय मार्केट तथा अन्य व्यवसायिक क्षेत्रों में प्रत्येक वाहन से लोडिंग और अनलोडिंग के रूप में प्रति वाहन प्रति ट्रिप रुपया 60 तथा रुपये 80 वसूली हो रही है ! जिसके कारण उन्हें सालाना 20,000 रुपये से अधिक राशि साल में देना पड़ रहा है ! छोटे छोटे फुटकर विक्रेता, ठेले वाले ,सब्ज़ी, फल,फूल वाले ,छोटे,मध्यम रेस्टोरेंट गलियों में ब्यूटी पार्लर में भी इसी प्रकार 7200 रुपये सालाना अतिरिक्त कर देना पड़ रहा है मध्यम वर्गीय परिवारों से भी 720 रुपये अतिरिक्त वसूला जा रहा है इस प्रकार ग़रीब ,मध्यमवर्गीय और व्यवसायी पर यूज़र चार्ज लगाकर उनकी आर्थिक रूप से कमर तोड़ दी गई है !

पार्षद दल ने महापौर से माँग की है कि वह झूठे कथन से जनता को गुमराह करना बंद करें एवं जनहित में आपकी सरकार की घोषणा अनुसार संपत्तिकर आधा करें( न्यूनतम)एवं अतिरिक्त बोझ यूज़र चार्ज तत्काल वापस लें अन्यथा भाजपा पार्षद दल जनहित में आंदोलन करेगा !

ज्ञापन की प्रतिलिपि विधायक जगदलपुर को भी सौंपा गया है कि वे इस संबंध में तत्काल निगम सरकार को निर्देश करें और संपत्तिकर आधा करने के संबंध में राज्य सरकार से उचित पहल करने की माँग की गई है ! चर्चा के दौरान उन्होंने कहा है कि वह प्रदेश के मंत्री से बात करेंगे और यदि यह पूरे प्रदेश में लागू नहीं किया गया है तो यहाँ भी लागू नहीं होगा ,इस विषय में चर्चा करेंगे !!

 ज्ञापन देने के दौरान भाजपा पार्षद दल ने निगम कार्यालय में जमकर नारेबाज़ी भी की ! 

नेता प्रतिपक्ष संजय पांडे,वरिष्ठ पार्षद योगेंद्र पांडे ,नरसिंह राव , दयावती देवांगन,राजपाल कसेर,निर्मल पाणिग्रही, भारती श्रीवास्तव , त्रिवेणी रंधारी ,धनसिंह नायक , दिगंबर राव, आलोक अवस्थी,मोती राम बघेल , महेंद्र पटेल ,शंभु नाग,सविता गुप्ता, दीप्ति पांडे,ममता पोटाई,नीलम यादव एवं भाजपा के पंकज आचार्य ,शशिनाथ पाठक एवं रोशन झा उपस्थित थे !!