breaking news New

भूपेश बघेल देश के सफलतम मुख्यमंत्रियों में से एक - विकास उपाध्याय

भूपेश बघेल देश के सफलतम मुख्यमंत्रियों में से एक - विकास उपाध्याय


रायपुर। संसदीय सचिव विकास उपाध्याय आज 14 जुलाई को संसदीय सचिव के रूप में उनके कार्यकाल का एक वर्ष पूर्ण होने पर प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार व्यक्त किया है जो उन्हें योग्य समझ सरकार के सहभागी होने में सम्मिलित किया। उन्होंने कहा, वे इस एक वर्ष में प्रदेश के कई क्षेत्रों का दौरा किया और सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं को कांग्रेस कार्यकर्ताओं के माध्यम से लोगों तक पहुँचाने प्रयास किया। आगे का दौरा वे विधानसभा चुनाव 2023 को दृष्टिगत रखते हुए करने जा रहे हैं और महंगाई इसमें मुख्य मुद्दा होगा। विकास उपाध्याय ने कहा, भूपेश बघेल देश के सफलतम मुख्यमंत्रियों में से एक हैं, जिनके कामकाज की चर्चा छत्तीसगढ़ के अन्तिम व्यक्ति तक हो रही है और आगे चलकर हमारी सरकार की कोशिश होगी कि बचे ढाई साल युवाओं को लेकर केन्द्रित रहें।


विकास उपाध्याय आज संसदीय सचिव के रूप में एक वर्ष पूर्ण होने पर पत्रकारों से चर्चा के दौरान कहा, इस दौरान उनके पास नीतिगत निर्णय लेने का अधिकार न होने के बावजूद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने व्यवहारिक तौर पर जो अधिकार दिए उससे वे सरकार की योजनाओं को आमजन तक पहुँचाने काफी हद तक सफल रहे। उन्होंने कहा, बीते एक साल में प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों का दौरा करने से एक बात जो समझ में आई है, प्रदेश की जनता मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की कार्यप्रणाली से पूरी तरह संतुष्ट हैं। कांग्रेस की सरकार में ग्रामीण अर्थव्यवस्था में तेजी आई है। अब हमारा ध्यान विधानसभा चुनाव 2023 को लेकर केन्द्रित होगा, जिसके लिए मैं स्वयं पूरे प्रदेश का दौरा कर नये युवा पीढ़ी को कांग्रेस की मुख्य धारा में जोड़ने मुहिम चलाउंगा।


मुख्यमंत्री ने संसदीय सचिव के रूप में जो सम्मान दिया उसके लिए आभार

विकास उपाध्याय ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार व्यक्त किया कि उन्होंने उन्हें संसदीय सचिव के योग्य समझ यह जिम्मेदारी दी। इस दौरान दो बार राष्ट्रीय ध्वज फहराने का मौका मिला, जो उनके लिए बड़े सम्मान की बात है। उन्होंने विभाग से संबंधित कामकाज को लेकर माॅनिटरिंग की और पाया कि सरकार के द्वारा चलाई जा रही योजनाएँ निश्चित तौर पर जनहित से जुड़ी योजनाएँ हैं। संसदीय सचिव के तौर पर पूर प्रदेश का कार्यक्षेत्र होने की वजह से सरकार की योजनाओं को पूरे प्रदेश में प्रचारित करने उन्हें एक माध्यम मिला है और वे इस दौरान प्रदेश में विभिन्न जगहों पर जाकर सरकार की योजनाओं को अपने तरीके से लगातार प्रचारित कर रहे हैं।


बचे ढाई साल में प्रदेश के ब्लाॅक स्तर तक दौरा कर युवाओं को कांग्रेस से जोड़ने का लक्ष्य

उन्होंने बताया कि भूपेश सरकार के बचे ढाई साल अब विधानसभा चुनाव 2023 को लेकर कांग्रेस का लक्ष्य होगा। उसके लिए उन्होंने एक रोड मैप तैयार कर रखा है जिसके तहत वे पूरे प्रदेश का दौरा कर ब्लाॅक स्तर तक जाएँगे एवं प्रदेश की नये युवा पीढ़ी को कांग्रेस की मुख्य धारा से जोड़ेंगे। इस दौरान वे बताएँगे कि भूपेश की कांग्रेेस सरकार युवाओं के लिए कृतसंकल्पित है। जिसमें छ.ग. के उन्नति में युवाओं का योगदान बहुत जरूरी है, साथ ही इस बात को लेकर भी पड़ताल करेंगे कि छ.ग. की उन्नति में युवाओं की क्या सोच है। जिसे वे एक रिपोर्ट बनाकर मुख्यमंत्री तक पहुँचाएंगे।


विधानसभा चुनाव 2023 का मुख्य मुद्दा बढ़ती महंगाई होगा

विकास उपाध्याय ने कहा, आज देश में बढ़ती महंगाई एक घरेलु समस्या बन गई है। रिजर्व बैंक में महंगाई के लिए जो लक्ष्य रखा हुआ है उस दायरे से यह अब भी ऊपर है। जून महिने का यदि आप महंगाई दर देखेंगे तो 6.26 प्रतिशत दर्ज की गई है और संभावना यह है कि जिस तरह से तेल के दामों में केन्द्र की मोदी सरकार अंकुश लगाने विफल साबित हो रही है, उससे महंगाई में और तेज उछाल की आशंका है। खाद्य पदार्थों की खुदरा महंगाई का आँकड़ा इस महिने में भी बढ़ा है और यह 5.01 प्रतिशत से बढ़कर 5.15 प्रतिशत हो गया है। उन्होंने बताया फलों में 11.82 प्रतिशत, खाने के तेलों में 34.78 प्रतिशत की महंगाई दर खतरे के निशान से बहुत ऊपर दिखाई पड़ रहा है। इन महंगाई दरों की बढ़ोतरी को लेकर ऐसा नहीं है कि मोदी सरकार को इसकी खबर नहीं है या सरकार को चेताया नहीं गया है। परन्तु इसके बाद भी पेट्रोल-डीजल के दाम जिस अंदाज में बढ़ रहे हैं, आने वाले महिनों में महंगाई की तस्वीर किस हद तक जा सकती है, समझा जा सकता है। जिस महंगाई को लेकर भाजपा सत्ता में आई आज कांग्रेस के लिए वही सबसे बड़ा मुद्दा है और महंगाई के मुद्दे को एक-एक वोटर तक ले जाना हमारा लक्ष्य है जो आगामी विधानसभा चुनाव में मुख्य मुद्दा होगा।


भाजपा के झूठ के खिलाफ जब तक जन आन्दोलन नहीं होगा इसे रोका नहीं जा सकता

विकास उपाध्याय ने कहा, भाजपा के शीर्ष नेता पूरे देश में झूठ को सच प्रचारित करने सफल साबित हो रहे हैं। देश के आर्थिक हालात दिन ब दिन बत्तर होती जा रही है। रोजगार के अवसर छीने जा रहे हैं। जिस कालाधन को लेकर प्रधानमंत्री मोदी विदेशों से लाकर भारत के लोगों के खाते में सीधे 15 लाख देने की बात करते थे उन बैंकों में कालाधन बीते 07 सालों में 50 प्रतिशत तक बढ़ गया है। यूपीए शासनकाल के आॅयल बाॅन्ड के 1.31 लाख करोड़ रूपये में से मोदी सरकार ने मात्र 3,500 करोड़ रूपये ही चुकाये, पर उनके मंत्री यह प्रचारित कर रहे हैं कि बाॅन्ड के पूरे पैसे चुकाने की वजह से तेल के दाम बढ़ाने पड़ रहे हैं। वैक्सीन को लेकर बड़े-बड़े दावे किए गए परन्तु आज केन्द्र सरकार वैक्सीन की पूर्ति करने अपने अधिकार क्षेत्र में लेने के बावजूद छत्तीसगढ़ को वैक्सीन नहीं मिल पा रही है। राज्य सरकार जब खरीद रही थी तो भाजपा के नेता रोज बयानबाजी करते थे, पर अब वैक्सीन की पूर्ति को लेकर भाजपा के लोग चुप्पी साध लिए हैं।


कांग्रेस में राहुल गांधी की पूर्णकालिक अध्यक्ष के रूप में जल्द ताजपोशी हो

विकास उपाध्याय ने कहा, कांग्रेस पार्टी में एक मात्र नेता राहुल गांधी ही हैं जो देश के बिगड़ते हालात व भाजपा की गलत कार्यप्रणाली को लेकर मुखर रहते हैं। राहुल गांधी द्वारा उठाये गए मुद्दों को देश भर में प्रचारित करना कांग्रेस के एक-एक व्यक्ति का उद्देश्य होना चाहिए। उन्होंने कहा, देश में परिवर्तन लाने राहुल गांधी की कांग्रेस पार्टी में पूर्णकालिक अध्यक्ष के रूप में जल्द ताजपोशी की जरूरत है। जब तक वे अध्यक्ष के तौर पर पूरे देश का दौरा नहीं करेंगे भाजपा अपने गलत ईरादों को जनता पर थोपने सफल होते रहेगी। विकास उपाध्याय ने कहा, देश में कांग्रेस की जड़ें आज भी मजबूत हैं, जिसे संगठनात्मक रूप से मजबूत करने की जरूरत है। कांग्रेस को कमजोर करने वाली शक्तियों को पहचानने की जरूरत है। जो लोग क्षणिक लाभ के लिए पार्टी विरोधी कार्य कर रहे हैं उनसे सचेत रहना चाहिये। तभी कांग्रेस की वापसी संभव है।


छत्तीसगढ़ में फिर से कांग्रेस की वापसी होगी

विकास उपाध्याय ने कहा, भूपेश बघेल की कांग्रेस सरकार जिस तरह से अन्तिम व्यक्ति तक उनकी हितों को लेकर कार्य कर रही है। निश्चित तौर पर फिर से भारी बहुमत के साथ छत्तीसगढ़ में वापसी करेगी। छ.ग. में भारतीय जनता पार्टी शून्य हो चुका है, वहीं क्षेत्रीय पार्टीयों का कोई अस्तित्व नहीं है। प्रदेश की जनता अब समझ चुकी है कि प्रदेश किस पार्टी व किसके हांथों सुरक्षित है। कांग्रेस सरकार जिस तरह से शहर से लेकर ग्रामीण अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ की है ऐसा छ.ग. के इतिहास में कभी नहीं हुआ। आगे चलकर यह सरकार उन योजनाओं को लेकर कार्य करेगी जिसमें सिर्फ छ.ग. की उन्नति सम्मिलित हो।