breaking news New

पत्रकारवार्ता में ढेबर ने बताया - अनेक विकास कार्यों को एक वर्ष में पूर्ण किया

पत्रकारवार्ता में ढेबर ने बताया - अनेक विकास कार्यों को एक वर्ष में पूर्ण किया

मोहल्ला क्लिनिक, बुढ़ातालाब सौंदर्यीकरण एवं जवाहर बाजार परिसर का कायाकल्प उनके एक वर्षीय कार्यकाल की यादगार उपलब्धि

रायपुर। नगरपालिक निगम रायपुर मे एक वर्ष के महापौर के कार्यकाल का ब्यौरा देते हुए एजाज ढेबर ने नगर निगम में आयोजित पत्रकारवार्ता में बताया कि शहर को सजाने-संवारने सहित अनेक जन उपयोगी एवं समस्याओं के समाधान में नगर निगम की टीम एवं आम लोगों के सहयोग से उन्हें अच्छी सफलता मिली। पत्रकारवार्ता में ढेबर ने बताया कि मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना के तहत 60 मोबाइल मेडिकल वाहनों का संचालन मोहल्ला क्लिनिक के जरिए द्वार-द्वार पहुंचकर लोगों के स्वास्थ्य परीक्षण में मिली सफलता से इसका क्रियान्वयन समय के साथ-साथ हर मोहल्लों में बड़े स्वरूप में दिखाई दे रहा है। उन्होंने कहा कि 1 नवंबर 2020 से आरंभ हुई मोबाइल यूनिट योजना के प्रथम चरण में 15 एमएमयू का संचालन किया जा रहा है। चलित चिकित्सा दल द्वारा पीडि़त मरीजों को नि:शुल्क स्वास्थ्य परामर्श जांच एवं स्लम एरिया में रहने वाली महिलाओं को नि:शुल्क एएनसी, पीएनसी जांच की सुविधा भी नगर निगम का स्वास्थ्य अमला उपलब्ध करा रहा है। गंभीर बीमारियों से ग्रस्त मरीजों को मौके पर पहुंंची टीम द्वारा जिला चिकित्सालय एवं मेकाहारा आदि में रेफर किया जाता है। दाई दीदी योजना के तहत पूरे महिला स्टाफ द्वारा दिसंबर 2031 की स्थिति में रायपुर में 661 कैम्प के माध्यम से 30014 मरीजों को दवा एवं चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई गई। 9550 मरीजों का लैब टैस्ट तथा 300140 मरीजों को जन प्रतिनिधि विधायक महिला एवं बालविकास आदि की टीम सहयोग से सम्पन्न किया गया। 

स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ठ विद्यालय योजना के बारे में बताते हुए महापौर ने कहा कि निर्धनत एवं अभावग्रस्त परिवार के बच्चों को अंग्रेजी माध्यम में शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए नगरनिगम क्षेत्र के तीन स्कूलों में यथा बीपी पुजारी स्कूल राजातालाब, आरडी तिवारी स्कूल आमापारा एवं शहीद स्मारक स्कूल मौदहापारा में सरकारी स्कूलों का चयन किया गया है। उक्त स्कूलों में ईलोकार्पण, लाइब्रेरी, प्रयोगशाला, खेल मैदान एवं अन्य सुविधाएं जल्द उपलब्ध कराई जाएंगी। 

बुढ़ातालाब विवेकानंद सौंदर्यीकरण को अपने कार्यकाल की बड़ी उपलब्धि बताते हुए ढेबर ने कहा कि उक्त तालाब को देखने के लिए केवल रायपुर ही नहीं बल्कि आसपास के जिलों से भी बड़ी संख्या में लोग अवकाश के दिनों में विद्युत छज्जा देखने शाम 6 बजे से रात 10 बजे तक आते हैं। उन्होंने कहा कि उक्त तालाब पूर्व में गंदगी से सराबोर था। सौंदर्यीकरण के बाद विवेकानंद की विशाल प्रतिमा तक पहुंचने के लिए जल सेतु का निर्माण एवं दो पाथवे का निर्माण म्यूजिक फाउंटेन नौकायान, आदि की सुविधा लगभग 5 करोड़ व्यय कर की गई है। 

सिटी कोतवाली थाना का निर्माण अंग्रेजों के जमाने में करवाया गया था। तब शहर की जनसंख्या सीमित थी इसलिए आवाजाही में दिक्कत नहीं होती थी। यातायात का दबाव बढऩे के साथ सिटी कोतवाली को सर्व सुविधायुक्त बनाने की योजना लंबे समय से लंबित थी जिसमें साढ़े पांच करोड़ रूपए व्यय कर लंबी चौड़ी सिटी कोतलवाली सर्वसुविधायुक्त बनाई गई है। उन्होंने बताया कि कोतवाली में वर्तमान समय में महिला एवं पुरूष कर्मियों के लिए 50-50 बिस्तरों की क्षमता वाले विश्रामगृह का निर्माण किया गया है। जवाहर बाजार परिसर का कायाकल्प की चर्चा करते हुए महापौर ने बताया कि उक्त चुनौती को स्वीकार करते हुए स्मार्ट सिटी रायपुर ने मुख्य द्वार को यथावत रखते हुए 20 करोड़ 70 लाख की लागत से सर्वसुविधायुक्त बाजार का निर्माण करवाया है। जिसमें 100 नवनिर्मित दुकानों की नीलामी कर व्यापारियों को दुकान हेतु स्थान सुलभ किया गया है। इसके अलावा महापौर ने बतया कि कलेक्टोरेट, उद्यान एवं आक्सीजोन स्मार्ट रोड का निर्माण उनके अल्प कार्यकाल की यादगार उपलब्धि है। आगामी कार्यकाल में अनेक जनहितकारी योजनाएं  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर मूर्त रूप लेगी। उन्होंने कहा कि जनसमस्याओं के निदान के लिए वे हमेशा आमलोगों के लिए उपलब्ध हैं। जोनवार समस्याओं के निराकरण के लिए जोन आयुक्तों को शासन द्वारा नियुक्त किया गया है। व्यक्तिगततौर पर भी समस्या होने पर उनसे संपर्क कर सकते हैं। पत्रकारवार्ता में नगरनिगम के अधिकारी पार्षद एवं जोन अधिकारी मौजूद थे।