breaking news New

कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए सादगी से मनाया गया स्वाधीनता दिवस

कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए सादगी से मनाया गया स्वाधीनता दिवस

कोरबा।  कोरोना संक्रमण के कारण कोरबा जिले में स्वतंत्रता दिवस का पर्व सादगी और सम्मान के साथ कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए मनाया गया। जिले के प्रभारी मंत्री एवं स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने स्वतंत्रता दिवस पर कोरबा जिला मुख्यालय स्थित सीएसईबी फुटबॉल ग्राउंड पर आयोजित संक्षिप्त कार्यक्रम में ध्वजारोहण किया और सशस्त्र बलों की टुकडिय़ों की सलामी ली। मुख्य अतिथि डॉ. टेकाम ने प्रदेशवासियों को शुभकामना संदेश भी दिया। प्रभारी मंत्री डॉ. टेकाम ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के छत्तीसगढ़ वासियों के लिए शुभकामना संदेश का वाचन किया। कार्यक्रम में कोरोना वारियर्स डॉक्टरों, पुलिस कर्मियों, स्वास्थ्य कर्मियों एवं स्वच्छता कर्मियों को भी सम्मानित किया गया।

मुख्य समारोह में मुख्यमंत्री अधोसंरचना विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं पाली तानाखार क्षेत्र के विधायक मोहित राम केरकेट्टा, रामपुर क्षेत्र के विधायक ननकी राम कंवर, नगर निगम महापौर राजकिशोर प्रसाद, सभापति श्याम सुंदर सोनी, कलेक्टर श्रीमती रानू साहू, पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल सहित जिले के जनप्रतिनिधिगण एवं नागरिकगण मौजूद रहे। स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर जिले के सभी शासकीय कार्यालयों में ध्वजारोहण प्रात: 8 बजे के पूर्व किए गए। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए इस बार समारोह में मार्च पास्ट नही हुई। सशस़्त्र बलों द्वारा केवल राष्ट्रीय ध्वज को सलामी दी गयी। कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए इस वर्ष स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रम में स्कुली छात्र-छात्राओं की भागीदारी भी प्रतिबंधित रही। सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित नहीं हुए।

इस वर्ष मिष्ठान वितरण भी नहीं किया गया। कार्यक्रम में सभी लोग मास्क पहनकर और सामाजिक दूरी का पालन करते हुए शामिल हुए। स्वतंत्रता दिवस पर जिले के सभी शासकीय एवं सार्वजनिक भवनों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया गया। 14 अगस्त को रात्रि से ही सभी शासकीय एवं सार्वजनिक भवनों तथा राष्ट्रीय महत्व के स्मारकों पर रोशनी की गई।

101 अधिकारी-कर्मचारी सम्मानित - स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रभारी मंत्री डॉ. टेकाम ने शासकीय कार्यों में उत्कृष्ट योगदान देने वाले जिले के 101 अधिकारी-कर्मचारियों को सम्मानित किया। सम्मानित होने वालो में पुलिस विभाग के 17, स्वास्थ्य विभाग के 15, कलेक्टर कार्यालय के 09, जिला पंचायत के 07 अधिकारी-कर्मचारी सहित महिला एवं बाल विकास विभाग, नगर निगम, जनपद पंचायत, तहसील कार्यालय, परिवहन विभाग, खाद्य विभाग, कृषि विभाग, भू-अभिलेख, आदिवासी विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग एवं अन्य विभागों के अधिकारी-कर्मचारी शामिल हैं।